S M L

पूरा मध्यप्रदेश पटवारी की परीक्षा में कर चुका है अप्लाई!

सोशल मीडिया पर चुटकुला चल रहा है कि हिलेरी क्लिंटन राष्ट्रपति चुनाव हारकर पटवारी की तैयारी कर रही हैं

Updated On: Dec 09, 2017 11:59 AM IST

Dinesh Gupta
(लेखक स्वतंत्र पत्रकार हैं)

0
पूरा मध्यप्रदेश पटवारी की परीक्षा में कर चुका है अप्लाई!

मध्यप्रदेश सरकार के राजस्व विभाग के लिए पटवारी की भर्ती परीक्षा शनिवार को ऑनलाइन शुरू हो रही है. परीक्षा प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा आयोजित की गई है. राज्य में बीस लाख से अधिक बेरोजगार हैं. पटवारी बनने के लिए बारह लाख उम्मीदवारों ने आवेदन किया है. लगभग हर परिवार में कोई न कोई पटवारी की परीक्षा दे रहा हैं. पटवारी के 33 प्रतिशत पद महिलाओं के लिए आरक्षित हैं. महिलाओं के लिए आरक्षित पदों की संख्या तीन हजार से अधिक होती है. बड़ी संख्या में रिक्त पद निकलने के कारण गांव की ग्रैज्यूएट महिलाओं ने भी बड़ी संख्या में पटवारी पद के लिए आवेदन किया है.

पटवारी परीक्षा की तैयारी करने के लिए विवाहित महिलाएं अपने मायके चली गईं हैं. कुछ शहरों में कोचिंग ले रहीं हैं. पटवारी परीक्षा की तैयारियों की किताबों का कारोबार सौ करोड़ से ऊपर का पहुंच चुका है. मध्यप्रदेश में ये ऐसी पहली परीक्षा है, जिसमें प्रतियोगी परीक्षाओं की किताबों की बिक्री का रिकार्ड टूटा है. परीक्षा में सामान्य ज्ञान के अलावा सामान्य गणित,सामान्य हिन्दी एवं ग्रामीण अर्थ व्यवस्था तथा पंचायती राज से संबंधित पाठ्यक्रम रखा गया है. कम्प्यूटर से संबंधित सवाल भी पूछे जाएंगे. परीक्षा हॉल में उम्मीदवार को डेढ़ घंटे पहले पहुंचना है. परीक्षा दो शिफ्ट में है. हर दिन एक लाख से अधिक उम्मीदवार परीक्षा देंगे.

पटवारी परीक्षा को लेकर कई तरह के जोक्स और वीडियो सोशल मीडिया में छाए हुए हैं. जोक्स में विराट कोहली और अनुष्का शर्मा तो है हीं डोनाल्ड ट्रम्प और हिलेरी क्लिंटन भी मध्यप्रदेश की पटवारी परीक्षा में उम्मीदवारों के चेहरे पर मुस्कराहट ला रहे हैं. छोटे-छोटे वीडियोज भी बने हैं. वीडियो में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प बच्चे से पटवारी बनने के लिए पूछ रहे हैं तो कहीं खुद ही पटवारी का फॉर्म भरने की बात कहते नजर आ रहे हैं. ट्रंप से लेकर सलमान तक, सब बोल रहे हैं- पटवारी का फॉर्म भर दिया क्या? एक फनी वीडियो में हिलेरी क्लिंटन कह रही हैं, राष्ट्रपति नहीं बन पाई तो क्या हुआ पटवारी का फॉर्म तो भर ही दिया है.

दामिनी फिल्म के मशहूर अदालत वाले सीन में तारीख पर तारीख के साथ पटवारी को जोड़ दिया गया है. सलमान खान की तेरे नाम फिल्म के एक सीन के साथ डायलॉग बदलकर पटवारी भर्ती के लिए बातचीत डाल दी गई है.  एक कवि द्वारा पटवारी की परीक्षा पर लिखी गई रचना कुछ इस तरह है-

पटवारी की परीक्षा, भई जी कौ जंजाल.  

बहुएं मायके भग गईं, छोड़ छाड़ ससुराल.  

छोड़ छाड़ ससुराल, सास को आफत भारी.  

सब बहुएं कर रहीं, परीक्षा की तैयारी.  

कहें गौर कविराय, बहू केवल बस पढ़ रई.  

गलती भी हो जाए, सास सें तौ नईं लड़ रई.

सपने में भी दिख रही, पटवारी की पोस्ट.               

सब तैयारी कर रहे, बना बना कर, नोट्स.           

बना बना कर नोट्स, किताबें पूरी छानी.                  

भूल गए हैं सभी, आजकल भोजन पानी.         

कहें गौर कविराय, रहे दिन भर सर भारी.              

सरनागत प्रभू आपके, बस बनवा दो पटवारी.

सास घुसी है किचन में, बना रही है चाय.               

बहू पुस्तकें पढ़ रही, खोल खोल अध्याय.       

खोल खोल अध्याय, सास को आफत भारी.               

भोजन रही बनाय, बहू बन रई पटवारी.            

कहें गौर कविराय, नौकरी खों सब मर रए.             

बीई डीलिट् करें, पटवारी की तैयारी कर रए.

उम्मीद से ज्यादा आवेदन

मध्यप्रदेश के इतिहास में यह पहला मौका है, जब एक परीक्षा में इतनी बड़ी संख्या में उम्मीदवार हिस्सा ले रहे हैं. प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) ने कुल पटवारी के 9235 पोस्टों को भरने के लिए एप्लीकेशन बुलाईं थीं. न्यूनतम योग्यता ग्रैज्यूएट निर्धारित है. पहले पटवारी के पद के लिए न्यूनतम योग्यता बारहवीं पास निर्धारित थी. सरकार ने यह सोचकर शैक्षणिक योग्यता में वृद्धि की कि इससे आवेदकों की संख्या काबू के बाहर नहीं होगी. सरकार का यह अनुमान भी गलत साबित हुआ. पटवारी के पद के लिए बारह लाख से अधिक आवेदन पीईबी के पास आए हैं. बीस हजार से ज्यादा आवेदन तो पीएचडी होल्डर के हैं. कुल तीन लाख से ज्यादा उम्मीदवार ऐसे हैं, जो न्यूनतम योग्यता से अधिक पढ़े लिखे हैं. ऐसे उम्मीदवारों के पास एमई,एमटेक और एमबीए की डिग्रीधारी भी हैं.

मध्यप्रदेश में यह पहला मौका नहीं है,जबकि निर्धारित योग्यता से अधिक शिक्षा वाले लोगों ने नौकरी के लिए आवेदन किया है. पिछले चार सालों में लगभग हर एक्जाम में निर्धारित शैक्षणिक योग्यता से ज्यादा पढ़े-लिखे बेरोजगार युवक आवेदन कर रहे हैं. राज्य में बेरोजगारों की संख्या बीस लाख से अधिक हैं. परीक्षाओं की तैयारी कराने वाले विशेषज्ञों का मानना है कि बैंक परीक्षाओं की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को काफी मेहनत के बाद सफलता मिल पा रही है. कई उम्मीदवार दो-तीन साल से आईबीपीएस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं, लेकिन थोड़े बहुत नंबर से अटक रहे हैं. बैंक की परीक्षाएं पहले से ज्यादा कठिन कर दी गई है इसलिए कई बैंक की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों ने भी पटवारी परीक्षा में आवेदन किया है.

ऑनलाइन हो रही है परीक्षा

मेडिकल कॉलेज की परीक्षाओं में हुए घोटाले के कारण बदनामी झेल रहे व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) ने अपना नाम बदलकर प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) कर लिया है. पीईबी विभिन्न सरकारी विभागों के लिए भर्ती का काम कर रहा है. मेडिकल कॉलेज में प्रवेश की परीक्षाएं नीट के माध्यम से हो रहीं हैं. पटवारी की परीक्षा में एक बार फिर पीईबी की साख दांव पर लगी हुई है. अपनी साख स्थापित करने के लिए पटवारी की परीक्षा में कई नए प्रयोग भी बोर्ड द्वारा किए जा रहे हैं. परीक्षा के एडमिशन कार्ड के साथ उम्मीदवारों को सेंटर का नाम नहीं बताया गया. सेंटर की जानकारी परीक्षा से तीन दिन पूर्व दी जा रही है. पहली परीक्षा शनिवार को होगी. परीक्षाएं 31 दिसंबर तक चलेंगीं. परीक्षाएं ऑनलाइन हैं. राज्य के सोलह जिला मुख्यालयों पर परीक्षाएं आयोजित की जा रहीं हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi