S M L

किसानों के नाम पर दो हजार करोड़ से ज्यादा का घोटाला, करेंगे कार्रवाई- कमलनाथ

कमलनाथ ने किसानों की कर्ज माफी में गलत तरीके से लोगों के नाम शामिल किए जाने और जिन्होंने लोन नहीं लिया उनका नाम भी लिस्ट में होने पर कहा है कि यह दो हजार करोड़ से भी बड़ा का घोटाला है

Updated On: Jan 30, 2019 01:40 PM IST

FP Staff

0
किसानों के नाम पर दो हजार करोड़ से ज्यादा का घोटाला, करेंगे कार्रवाई- कमलनाथ

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने पूर्व की बीजेपी सरकार पर घोटाले का आरोप लगाया है. कमलनाथ ने किसानों की कर्ज माफी में गलत तरीके से लोगों के नाम शामिल किए जाने और जिन्होंने लोन नहीं लिया उनका नाम भी लिस्ट में होने पर कहा है कि यह दो हजार करोड़ से भी बड़ा का घोटाला है.

उन्होंने कहा, 'मैं दो-तीन लोगों से मिला, किसी ने भी लोन नहीं लिया है लेकिन लिस्ट में उनके नाम पर लोन दिखाया गया है.' उन्होंने कहा, 'कुछ ऐसे भी लोग हैं जिनका नाम गलत तरीके से उस लिस्ट में शामिल हैं, जिनके लोन माफ किए गए हैं.' मुख्यमंत्री ने कहा, 'यह एक बड़ा घोटाला है और यह दो हजार करोड़ से भी बड़ा हो सकता है. हम लोग इस पर कड़ी कार्रवाई करेंगे.'

मध्य प्रदेश में किसानों की कर्ज माफी की घोषणा के बाद से ही कई तरह की विसंगतियां सामने आ रही हैं. कई किसानों ने आरोप लगाया है कि उन्होंने लोन नहीं लिया फिर भी उनके नाम लिस्ट में शामिल हैं. इसके साथ ही कई लोगों का नाम गलत तरीके से भी शामिल किया है.

दोषी मैनेजरों के खिलाफ होगी कार्रवाई

मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि 3-4 जिले के लोगों से मिला. कई ने कहा कि लोन नहीं लिया है फिर भी नाम बकायादारों की लिस्ट में शामिल है. उन्होंने कहा कि यह बीजेपी शासन का बड़ा घोटाला है. मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषी बैंक मैनेजरों के खिलाफ हमारी सरकार कार्रवाई करेगी.

प्रदेश में कांग्रेस की नई सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने 17 दिसंबर को पदभार ग्रहण करने के कुछ घंटों के बाद ही प्रदेश में किसानों के दो लाख रुपए तक कृषि लोन माफ करने की घोषणा कर दी थी. विधानसभा चुनावों में कांग्रेस का यह एक प्रमुख वादा था. प्रदेश सरकार ने कहा कि किसान ऋण माफी योजना का फायदा किसानों को 22 फरवरी से मिलने लगेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi