S M L

लिंचिंग की घटनाओं से भारत की छवि को नुकसान पहुंचा: चीन में पर्यटन मंत्री

अल्फोंस ने मंगलवार को भारतीय पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि खैर लिंचिंग नहीं होनी चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने भी लिंचिंग करने वालों को क्रिमिनल बताया है और पीएम ने राज्यों से कहा कि आपको कार्रवाई करनी है क्योंकि कानून-व्यवस्था राज्य का विषय है

Updated On: Aug 29, 2018 02:59 PM IST

FP Staff

0
लिंचिंग की घटनाओं से भारत की छवि को नुकसान पहुंचा: चीन में पर्यटन मंत्री

केंद्रीय पर्यटन मंत्री के.जे अल्फोंस ने कहा कि लिंचिंग भारत की छवि के लिए खराब है. टूरिस्ट को बढ़ावा देने चीन पहुंचे केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बीफ पर प्रतिबंध लगाने से टूरिज्म पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा और भारत को महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित बताने वाले सर्वे की सच्चाई सामने लाने की भी मांग की.

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, अल्फोंस ने मंगलवार को भारतीय पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि खैर लिंचिंग नहीं होनी चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने भी लिंचिंग करने वालों को क्रिमिनल बताया है और पीएम ने राज्यों से कहा कि आपको कार्रवाई करनी है क्योंकि कानून-व्यवस्था राज्य का विषय है.

अल्फोंस से जब पूछा गया कि लिंचिंग की घटनाओं से भारत में टूरिज्म भी प्रभावित होता है? उन्होंने इसका जवाब देते हुए कहा कि खैर, एक बड़े समय के आधार पर नहीं ... वास्तव में नहीं. लेकिन इस प्रकार की घटनाओं से देश की छवि पर प्रभाव तो पड़ता है. मैं यह नहीं कर रहा कि यह देश की छवि के लिए अच्छा है.

बीफ बैन से विदेशी यात्रियों पर क्या प्रभाव पड़ता है? इसके जवाब में उन्होंने कहा कि यह सच्चाई नहीं है. आप देख सकते हैं केरल, गोवा और नॉर्थ-ईस्ट इस सभी राज्यों में बीफ खाया जाता है.

पिछले साल पर्यटन मंत्री का कार्यभार संभालते ही के.जी अल्फोंस ने कहा था कि केरल में बीफ खाना जारी रहेगा. इसके साथ उन्होंने कहा था कि बीजेपी ने कभी भी बीफ खाने के लिए मना नहीं किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi