S M L

32 दलों को पछाड़कर SP बनी देश की सबसे अमीर क्षेत्रीय पार्टी

देश के 32 क्षेत्रीय दलों की कुल आय 321.03 करोड़ रुपए रही. यानी एसपी की आय क्षेत्रीय दलों की कुल आय का 25.78 प्रतिशत है

Updated On: May 23, 2018 08:51 AM IST

FP Staff

0
32 दलों को पछाड़कर SP बनी देश की सबसे अमीर क्षेत्रीय पार्टी

समाजवादी पार्टी श्रेत्रीय दलों में सबसे अमीर पार्टी बनकर उभरी है. इसी के साथ इसने देश की सबसे अमीर क्षेत्रीय दल होने का दर्जा प्राप्त कर लिया है. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) की रिपोर्ट के मुताबिक साल  2016-17 में एसपी को कुल 82.76 करोड़ रुपए की आय हुई है.

रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान देश के 32 क्षेत्रीय दलों की कुल आय 321.03 करोड़ रुपए रही. यानी एसपी की आय क्षेत्रीय दलों की कुल आय का 25.78 प्रतिशत है. रिपोर्ट में कहा गया है कि इस दौरान 32 क्षेत्रीय दलों ने इस अवधि के दौरान 435.48 करोड़ रुपए खर्च होने की घोषणा की है. इनमें से 17 दलों के पास पड़े 114.45 करोड़ रुपए खर्च नहीं हो सके.

एडीआर के मुताबिक, एआईएमआईएम और जेडीएस का कहना है कि वह अपनी 87 फीसदी से ज्यादा राशि को खर्च नहीं कर पाए. टीडीपी भी 2016-17 में अपनी 67 प्रतिशत राशि खर्च नहीं कर सकी. डीएमके ने अपनी आय से 81.88 करोड़ रुपए ज्यादा खर्च किए. वहीं सपा और अन्नाद्रमुक ने क्रमश: 64.34 करोड़ और 37.89 करोड़ रुपए अधिक खर्च किए. सबसे ज्यादा खर्च करने वाले तीन दलों में एसपी 147.1 करोड़ रुपए के साथ सबसे आगे रही.

रिपोर्ट में बताया गया है कि 48 क्षेत्रीय दलों में से 16 पार्टियों की वर्ष 2016-17 की ऑडिट रिपोर्ट चुनाव आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध नहीं हैं. इनमें आम आदमी पार्टी, जम्मू-कश्मीर नेशनल कॉन्फ्रेंस और राष्ट्रीय जनता दल शामिल.हैं. इस अवधि के लिए ऑडिट रिपोर्ट जमा कराने की अाखरी तारिख 31 अक्टूबर, 2017 थी. 12 क्षेत्रीय दलों ने समय पर इसे जमा किया. 20 दलों ने 13 दिन से 5 महीने तक की देरी की.

32 क्षेत्रीय दलों में से 14 की आय 2015-16 के मुकाबले 2016-17 में कम रह गई. वहीं 13 दलों ने आय में वृद्धि दिखाई है. पांच क्षेत्रीय दलों ने 2015-16 का आयकर रिटर्न चुनाव आयोग में जमा नहीं कराया है. आईटीआर जमा कराने वाली 27 क्षेत्रीय दलों के अनुसार, वर्ष 2015-16 के मुकाबले वर्ष 2016-17 में उनकी आय 291.14 करोड़ रुपये से बढ़कर 316.05 करोड़ रुपये हो गई. यह 8.56 फीसदी का उछाल है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi