S M L

कथित लव जिहाद मामला: पति ने पत्नी को सेक्स स्लेव बनाकर ISIS को बेचने की कोशिश की

महिला के पति ने कहा कि जबरन धर्म परिवर्तन या अन्य तरह के किसी भी शोषण से हमारा कोई लेना देना नहीं है

FP Staff Updated On: Jul 01, 2018 11:52 AM IST

0
कथित लव जिहाद मामला: पति ने पत्नी को सेक्स स्लेव बनाकर ISIS को बेचने की कोशिश की

केरल में कथित लव जिहाद से जुड़े एक मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने कर्नाटक के एक कमर्शियल सेल्स टैक्स अफसर की पत्नी से इस संबंध में पूछताछ की है. केरल की रहने वाली एक महिला ने अपने पति पर आरोप लगाया है कि उसके पति ने उसे इस्लाम धर्म स्वीकार करने पर मजबूर किया. साथ ही उसे सेक्स स्लेव बनाकर इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) को बेचने की भी कोशिश की.

एनआईए से जुड़े सूत्रों ने बताया कि उन्होंने कलबुर्गी जिले में तैनात कमर्शियल टैक्स के डिप्टी कमिश्नर इरशादुल्ला खान की पत्नी से 6 और 7 जून को पूछताछ की थी. सूत्रों ने बताया कि अधिकारी की पत्नी के पास से 8 लैपटॉप और 12 मोबाइल फोन जब्त किए गए हैं.

शुरुआती जांच में अधिकारी की पत्नी पर भी हो रहा है शक

साउथ इंडिया एनआईए ऑपरेशंस के सुपरवाइजिंग अफसर और आईजी आलोक मित्तल ने इस घटनाक्रम की पुष्टि करते हुए बताया, 'पीड़िता ने बताया था कि टैक्स अधिकारी की पत्नी बेंगलुरु में इस्लामिक स्टडीज की क्लास चलाती हैं और पति के दबाव में उसने उनकी क्लास अटेंड की है. इस जानकारी के आधार पर हमने 6 और 7 जून को दबिश दी. हमने अधिकारी की पत्नी के पास से लैपटॉप, मोबाइल फोन और सिम कार्ड जब्त किए हैं. पीड़िता अधिकारी के घर में नहीं रहती थी लेकिन कोचिंग के लिए यहां अक्सर आती थी. मामले की जांच जारी है.'

न्यूज़18 से बातचीत में एजेंसी के भरोसेमंद सूत्र ने कहा, 'हो सकता है कि यह जानते हुए भी कि आरोपी गलत कामों में शामिल है, अधिकारी की पत्नी ने उसकी मदद की हो. हम खान के घर से मिले लैपटॉप और सेलफोन से डाटा रिकवर करने पर फोकस कर रहे हैं. शुरुआती जांच में लग रहा है कि अधिकारी की पत्नी आरोपी को मदद करती थी. अब तक हमें इस मामले में अधिकारी का सीधा लिंक नहीं मिला है. जांच जारी है और यह एक निष्पक्ष जांच होगी.'

जबरन धर्म परिवर्तन या शोषण से मेरा कोई लेना-देना नहीं

अधिकारी ने स्वीकार किया कि उनकी पत्नी से एनआईए ने पूछताछ की है. हालांकि उन्होंने कहा कि उनका इस मामले से कोई लेना-देना नहीं है. अधिकारी ने कहा, 'मेरी पत्नी से पूछताछ की गई क्योंकि 2016 में शिकायतकर्ता 16 दिन तक मेरे घर में रुकी थी. जबरन धर्म परिवर्तन या अन्य तरह के किसी भी शोषण से हमारा कोई लेना-देना नहीं है. हम जांचकर्ताओं को पूरा सहयोग करेंगे और मुझे पूरा यकीन है कि मेरा परिवार निर्दोष साबित होगा.'

गलत दस्तावेजों के आधार पर शादी की और जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवाया

महिला ने यह भी आरोप लगाया कि गलत दस्तावेजों के आधार पर रियाज ने उससे शादी की और जबरदस्ती उसका धर्म परिवर्तन करवाया. आरोपी ने कथित तौर पर फर्जी पासपोर्ट बनवा लिए थे और 25 साल की इस महिला को केरल में गैर-कानूनी तरीके से बंधक बनाकर रखा था. इसके बाद अगस्त 2017 में वो उसे आतंकी संगठन आईएसआईएस को बेचने के मकसद से सऊदी अरब के जेद्दा लेकर गया था. पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा कि जेद्दा में आरोपी रियाज इस्लामिक स्टेज में शामिल हुआ था और गैर-कानूनी गतिविधियों के लिए उसे इस्लामिक स्टेट से फंड मिलता था.

महिला के परिजनों ने आईपीसी की विभिन्न धाराओं में आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करवाया था. पुलिस की दर्ज एफआईआर में 9 आरोपियों के नाम हैं जिनमें से चार बेंगलुरु के हैं.

जांच के दौरान एनआईए को यह भी पता चला कि केरल पुलिस ने रियाज के दोस्तों और रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद उसे मजबूरन देश लौटना पड़ा. जांच से जुड़े शीर्ष अधिकारियों का कहना है कि शुरुआती जांच में कोई भी सबूत सामने नहीं आया है लेकिन इस्लामिक स्टेट से जुड़े होने के आरोपों की गहराई से जांच होगी.

(न्यूज़18 के लिए शरत शर्मा की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi