S M L

पीएम के मन की बात: देश में VIP कल्चर खत्म, अब EPI का वक्त है

Updated On: Apr 30, 2017 11:39 AM IST

FP Staff

0
पीएम के मन की बात: देश में VIP कल्चर खत्म, अब EPI का वक्त है

प्रधानमंत्री मोदी ने अपने मन की बात के 31वें संस्करण में ऐसे लोगों का शुक्रिया अदा किया है जो उन्हें अपने सुझाव भेजते हैं. उन्होंने मन की बात में ऐसे लोगों का आभार व्यक्त किया है.

उन्होंने कहा है कि आम लोगों के सुझाव सामान्य नहीं हैं. ऐसे लोग अनुभव के आधार पर अपनी राय व्यक्त करते हैं.

प्रधानमंत्री मोदी ने बदलते मौसम पर लोगों की फिक्र की बात की. उन्होंने कहा है कि मई-जून की गर्मी मार्च अप्रैल में ही देखने को मिल रही है. उन्होंने कहा कि कई लोगों ने गर्मी में पशु पक्षियों के लिए पानी देने की बात कही है. उन्होंने कहा कि पशु पक्षियों से लगाव से आनंद मिलता है. वोहरा समुदाय का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस समुदाय के लोग गौरेया के संरक्षण में लगे हैं.

युवाओं की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कई युवा आराम पस्त होते हैं. समय को बर्बाद करना ठीक नहीं. उन्होंने कहा कि गर्मी की छुट्टियों का भी सदुपयोग करना चाहिए. इन छुट्टियों में नई नई चीजें सीखनी चाहिए.

पीएम मोदी ने कहा कि युवा भारत की विविधता के बारे में जानें.

वीआईपी कल्चर के बारे में बात करते हुए पीएम ने कहा कि हमारे देश में वीआईपी कल्चर को लेकर नफरत का माहौल है. मेरा हाल का अनुभव है ये. जबसे गाड़ियों से लाल बत्ती हटाने की बात कही गई. ये साफ है कि लाल बत्ती तो गाड़ियों पर लगी हुई है लेकिन धीरे-धीरे ये लोगों के दिमाग में घुस गई है. इसलिए इस वीआईपी कल्चर को खत्म करना जरूरी था.

उन्होंने EPI का फॉर्मूला देते हुए कहा कि, 'देश में वीआईपी कल्चर का नहीं ईपीआई कल्चर होना चाहिए. मतलब एवरी पर्सन इज इंपॉर्टेंट.'

चर्चा को आगे बढ़ाते हुए पीएम आने वाले 1 मई को यानी श्रमिक दिवस पर भी बात की. इस बहाने उन्होंने बाबा साहेब ने इस दिशा में दिए गए योगदान को याद किया. और कहा कि हम उनके आभारी हैं.

पीएम ने कहा कि कुछ दिन के बाद हम बुद्ध पूर्णिमा मनाएंगे. बुद्ध के विचार आज भी प्रासंगिक हैं. मेरा सौभाग्य है कि यूनाइटेड नेशन्स द्वारा आयोजित श्रीलंका में होने वाले कार्यक्रम में मुझे बुद्ध का नमन करने का मौका मिलेगा.

आखिर में पीएम ने ये शब्द कहकर विदा लिया, 'गर्मी बहुत है. अपनों को संभालिए, अपने को भी संभालिए. धन्यवाद.'

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi