S M L

3 idiots फेम लेह का स्कूल गिराएगा 'रैंचो वॉल', टूरिस्ट भी बैन

फिल्म ने फेमस तो किया पर छात्रों का ध्यान भटक गया, गंदगी फैली सो अलग. अब वापस अपने पुराने रुप में दिखेगा ये स्कूल

Updated On: Sep 24, 2018 09:46 PM IST

FP Staff

0
3 idiots फेम लेह का स्कूल गिराएगा 'रैंचो वॉल', टूरिस्ट भी बैन

आमिर खान की फिल्म ‘3 इडियट्स’ के बाद से लेह का द्रुक पद्मा कारपो स्कूल चर्चा में आया था और इस स्कूल को देखने वाले टूरिस्टों की संख्या बढ़ गई थी. उसी स्कूल ने अब उस ‘रैंचो वॉल’ को गिराने का फैसला किया है, साथ ही ये पर्यटकों के प्रवेश पर भी रोक लगाएगा क्योंकि अधिकारियों को लगता है कि इससे छात्रों का ध्यान बंटता है.

फिल्म में स्कूल की इस दीवार पर चतुर नाम का एक पात्र पेशाब करता है और स्कूली बच्चों के एक स्वदेशी आविष्कार की वजह से उसे उस दौरान बिजली का झटका लगता है. स्कूल ने बाद में इस दीवार को ‘रैंचो वॉल’ के तौर पर पेंट कर दिया था जो पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बन गया था और तस्वीर खिंचवाने की एक जगह बन गया था.

स्कूल के प्रधानाचार्य स्टेनजिन कुनजेंग ने बताया, 'इस फिल्म से विद्यालय को काफी पब्लिसिटी मिली है और लद्दाख आने वाले पर्यटकों के लिए यह एक दर्शनीय स्थल बन गया. हालांकि अब हमें लगता है कि इससे इस क्षेत्र में स्कूल बनाने का मकसद पूरा नहीं हो रहा है. स्कूल में आने वाले पर्यटकों से न सिर्फ छात्रों का ध्यान बंटता है बल्कि परिसर में गंदगी भी हो रही है.'

3-idiots

1998 में हुई थी स्कूल की स्थापना:

कुनजेंग ने कहा कि लद्दाख के आध्यात्मिक नेता 12 वें ग्यालवांग ड्रुक्पा के दर्शन से प्रेरित होकर स्कूल का उद्देश्य लद्दाख के बच्चों को आधुनिक शिक्षा मुहैया कराना था. ऐसी शिक्षा जो उनकी संस्कृति से उन्हें जोड़े और उन्हें खुशहाल और सकारात्मक जिंदगी जीने के लिये तैयार कर सके.

ड्रुक पद्मा कार्पो एजुकेशन सोसाइटी द्वारा 1998 में स्कूल को स्थापित किया गया था. फ्लैश बाढ़ और भूस्खलन में स्कूल आंशिक तौर पर नष्ट हो गया था लेकिन बाद में इसे फिर से पुनर्निर्मित किया गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi