S M L

इस साल भरे गए 60% ज्यादा ITR, पांच करोड़ लोगों ने फाइल किया रिटर्न

इस साल 30 अगस्त तक पांच करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किए गए हैं, जो पिछले साल से 60 प्रतिशत ज्यादा हैं

Updated On: Aug 31, 2018 10:46 AM IST

FP Staff

0
इस साल भरे गए 60% ज्यादा ITR, पांच करोड़ लोगों ने फाइल किया रिटर्न

31 अगस्त यानी आज इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख है. आज आप अपना टैक्स रिटर्न जरूर फाइल कर लें, वर्ना आपको जुर्माना भरना पड़ सकता है.

इस बीच सरकार के लिए एक अच्छी खबर है. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल 30 अगस्त तक पांच करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किए गए हैं, जो पिछले साल से 60 प्रतिशत ज्यादा हैं. ये सरकार के लिए शुभ संकेत है.

फिलहाल आज आखिरी तारीख पर ये आंकड़ा और ऊपर जा सकता है. अकेले गुरुवार को ही 20 लाख लोगों ने आईटीआर फाइल किया था.

अधिकारियों का मानना लोगों को टैक्स भरने के लिए जागरूक करने के अलावा न भरने की स्थिति में जुर्माना लगाने का प्रावधान भी शुरू किया है और रिटर्न फाइल करने की अवधि भी एक महीने तक बढ़ा दी गई थी, जिसके चलते टैक्सपेयर्स की संख्या बढ़ी है.

इसके पहले सरकार मार्च के अंत तक बिना कोई जुर्माना लगाए रिटर्न फाइल करने की छूट देती थी. हालांकि, रिटर्न फाइल करने वालों में से उनकी संख्या ज्यादा है, जो इनकम टैक्स नहीं देते. इनमें से एक करोड़ लोग जीरो टैक्स लायबिलिटी की घोषणा करते हैं.

पहले ही कहा जा रहा था कि इस साल सरकार इनकम टैक्स से बड़ी कमाई कर सकती है. SBI ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि नोटबंदी और ऑपरेशन क्लीन मनी के कारण इनकम टैक्स रिटर्न भरने वालों की संख्या बढ़ी है. इसके अलावा दो और कारण हैं जिनके कारण सरकार फायदे में रह सकती है. सरकार ने इस बार रिटर्न फाइल न करने पर जुर्माना लगाने का प्रावधान शुरू कर दिया है. साथ ही इस बार रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख एक महीने बढ़ाकर 31 अगस्त भी कर दी गई थी.

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि पिछले वित्तवर्ष में आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या में 53 फीसदी की बढ़ोतरी आई है. 29 अगस्त, 2018 तक पांच करोड़ लोगों ने इनकम टैक्स रिटर्न भरा है. पिछले वित्तवर्ष में 29 अगस्त, 2017 तक महज 3.1 करोड़ लोगों ने इनकम टैक्स रिटर्न भरा था.

SBI की रिपोर्ट के अनुसार, अगर पिछले साल के मुकाबले इस साल 30 फीसदी की बढ़ोतरी होती है तो मौजूदा साल में 2 करोड़ नए टैक्सपेयर्स अपना रिटर्न फाइल करेंगे. इसमें से अगर 25 फीसदी लोग भी हर महीने 5000 रुपए का टैक्स देते हैं तो सरकार को 30 हजार करोड़ रुपए अतिरिक्त मिलेंगे. इसमें से 75 फीसदी करदाता जीरो इनकम का रिटर्न फाइल करेंगे तो भी इतना फायदा हो सकता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi