विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

कृतिका चौधरी मर्डर केस: पुलिस को है पूर्व पति पर शक, जांच जारी

कृतिका के भाई दीपक चौधरी ने बताया कि उनकी बहन ने द्विवेदी को 2012 में तलाक दे दिया था

FP Staff Updated On: Jun 15, 2017 04:52 PM IST

0
कृतिका चौधरी मर्डर केस: पुलिस को है पूर्व पति पर शक, जांच जारी

अभिनेत्री और मॉडल कृतिका चौधरी की हत्या मामले में मुंबई पुलिस अब उनके पूर्व पति की भूमिका की जांच में जुट गई है. इससे पहले कृतिका की पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई थी कि उनकी हत्या की गई है.

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, उस शख्स की पहचान विजय द्विवेदी के रूप में हुई है. जिसे साल 2012 में मुंबई पुलिस ने कई राजनेताओं और फिल्मी हस्तियों के साथ धोखाधड़ी के आरोप में हिरासत में लिया था. वो खुद को कांग्रेस नेता जनार्दन द्विवेदी का बेटा बताता था.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, पुलिस के इनवेस्टिगेशन में पता चला है कि मर्डर से पहले उसका यौन उत्पीड़न भी हुआ था. इस मामले में दो लोगों को हिरासत में भी लिया गया है. पुलिस ने कृतिका की बिल्डिंग के वॉचमैन और उसके एक दोस्त को अरेस्ट किया है.

2012 में उनका तलाक हो चुका था

कृतिका के भाई दीपक चौधरी ने बताया कि उनकी बहन ने विजय द्विवेदी को साल 2012 में तलाक दे दिया था. दीपक ने कहा, 'उसके (विजय द्विवेदी) खिलाफ कई आपराधिक मामले दर्ज हैं'. उन्होंने आगे बताया कि कृतिका और विजय 2012 में दिल्ली में मिले थे. विजय द्विवेदी पर साल 2010 के कॉमन वेल्थ गेम में वीआईपी टिकट उपलब्ध कराने और जनार्दन द्विवेदी से जुड़े होने का दावा करने जैसे कई आरोप हैं.

पुलिस ने बताया, विजय द्विवेदी ने कृतिका को बॉलीवुड फिल्मों में रोल दिलाने का वादा किया था. उसके बाद वे दोनों मुंबई शिफ्ट हो गए और वहीं उन्होंने शादी कर ली.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया उन्होंने तलाक के बाद कृतिका के साथ विजय द्विवेदी के संबंधों के बारे में पूछताछ की है.

ये भी पढ़ें: मुंबई: एक्ट्रेस, मॉडल कृतिका चौधरी की मौत कोई हादसा नहीं हत्या है

7 जून को आखिरी बार भाई से बात हुई थी

दीपक बुधवार की सुबह अपनी मां के साथ मुंबई पहुंचे. उन्होंने पुलिस को बताया, हमें नहीं पता कोई ऐसा क्यों करेगा. मेरी आखिरी बार कृतिका से 7 जून को बात हुई थी. कुछ दिन बाद भी जब उसने हमारा फोन नहीं उठाया तब भी हमें कुछ गलत होने का अंदेशा नहीं हुआ और सोमवार को पुलिस ने फोन पर कृतिका के मौत की खबर दी.

अंबोली पुलिस को कृतिका के घर से पीतल के पोर की एक जोड़ी मिली है, माना जा रहा है कि उसे मारने के लिए इसी का इस्तेमाल किया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi