S M L

किसानों को केजरीवाल का समर्थन, बोले- अन्नदाताओं को दिल्ली आने दो

केजरीवाल ने कहा, ‘किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने से क्यों रोका जा रहा है. यह गलत है. दिल्ली सबकी है. उन्हें दिल्ली में आने देना चाहिए. हम उनकी मांगों का समर्थन करते हैं’

Updated On: Oct 02, 2018 03:58 PM IST

Bhasha

0
किसानों को केजरीवाल का समर्थन, बोले- अन्नदाताओं को दिल्ली आने दो

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि किसानों के विरोध मार्च को दिल्ली में प्रवेश करने से रोकना ‘गलत’ है. उन्होंने शहर में किसानों को आने देने की इजाजत देने की वकालत की.

2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर दिल्ली विधानसभा में आयोजित एक समारोह से इतर उन्होंने मीडिया से कहा, ‘किसानों को दिल्ली में प्रवेश करने से क्यों रोका जा रहा है. यह गलत है. दिल्ली सबकी है. उन्हें दिल्ली में आने देना चाहिए. हम उनकी मांगों का समर्थन करते हैं.’

arvind-kejriwal1-1002x563

अरविंद केजरीवाल

किसानों ने 9 सूत्रीय मांगों के साथ किया है दिल्ली कूच

भारतीय किसान यूनियन के विरोध-प्रदर्शन में शामिल किसान दिल्ली की ओर मार्च कर रहे हैं. किसानों की कर्ज माफी और ईंधन के दाम में कटौती समेत कई मांगे हैं.

मंगलवार को उन्हें दिल्ली-उत्तर प्रदेश सीमा पर रोक दिया गया. पुलिस ने उन्हें तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछारें की और उनपर आंसू गैस के गोले छोड़े.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ट्रैक्टरों और ट्रॉलियों पर सवार होकर बड़ी संख्या में किसानों ने उत्तर प्रदेश के अवरोधकों (बैरियर) को तोड़ दिया और दिल्ली पुलिस की ओर से लगाए अवरोधकों की ओर बढ़ गए.

शहर की पुलिस ने विरोध मार्च के मद्देनजर कानून और व्यवस्था की समस्या की आशंका को देखते हुए पूर्वी तथा उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सोमवार से ही निषेधाज्ञा लागू कर दी थी.

पूर्वी दिल्ली में यह निषेधाज्ञा 8 अक्टूबर तक जारी रहेगी. इसके दायरे में प्रीत विहार, जगतपुरी, शकरपुर, मधु विहार, गाजीपुर, मयूर विहार, मंडावली, पांडव नगर, कल्याणपुरी और न्यू अशोक नगर पुलिस थाना क्षेत्र आते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi