S M L

खालिस्तानी आतंकी के साथ दिखीं कनाडाई PM की पत्नी, विवाद गहराया

जसपाल अटवाल प्रतिबंधित इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन का सक्रिय आतंकी रहा है

FP Staff Updated On: Feb 22, 2018 10:28 AM IST

0
खालिस्तानी आतंकी के साथ दिखीं कनाडाई PM की पत्नी, विवाद गहराया

दोषी करार दिए गए खालिस्तानी आतंकवादी जसपाल अटवाल को कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की पत्नी सोफी ट्रूडो के साथ एक फोटो में देखा गया है. यह फोटो 20 फरवरी की है जो ट्रूडो परिवार के भारत दौरे के वक्त ली गई है. सोफी ट्रूडो और अटवाल की फोटो काफी वायरल हो रही है.

जसपाल अटवाल प्रतिबंधित इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन का सक्रिय आतंकी रहा है.

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो फिलहाल भारत यात्रा पर हैं. इस दौरान वे भारत के अलग-अलग राज्यों में घूम रहे हैं और कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे हैं. यात्रा के दौरान कनाडाई पीएम ने 20 फरवरी को मुंबई में एक डिनर पार्टी का आयोजन किया था. इस पार्टी में फिल्मी दुनिया की कई जानी-मानी हस्तियां शामिल हुई थीं. इसी पार्टी में खलिस्तान आतंकवादी जसपाल अटवाल को भी न्योता भेजा गया था.

कौन है जसपाल अटवाल?

जसपाल अटवाल 1986 में वैंकुवर में भारतीय कैबिनेट मंत्री मल्कियत सिंह सिद्धू की हत्या की कोशिश में दोषी करार है. वह उन चार लोगों में से एक था, जिन्होंने सिद्धू की कार पर गोली चलाई थी. 1986 गोलीबारी कांड के वक्त अटवाल सिख अलगाववादी नेता था जो इंटरनेशनल सिख यूथ फेडरेशन के लिए काम करता था.

न्योते को लेकर विवाद

बीते गुरुवार कनाडाई उच्चायुक्त ने एक डिनर पार्टी आयोजित की थी जिसमें अटवाल को बतौर मेहमान न्योता भेजा गया था. हालांकि एएनआई के मुताबिक अटवाल के न्योते को अब रद्द कर दिया गया है. एएनआई ने यह खबर कनाडा के सीबीसी न्यूज के हवाले से जारी की है.

कनाडाई प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के प्रवक्ता इलीनोर कैटनरो के मुताबिक, हाई कमिशन अटवाल के निमंत्रण को रद्द करने की प्रक्रिया में है. बीते 20 फरवरी को अटवाल को कनाडाई इंफ्रास्ट्रक्चर मंत्री अमरजीत सोही के साथ एक फोटो में देखा गया था.

ट्रूडो फिलहाल भारत दौरे पर हैं जो कनाडा में सिख अलगाववाद की खबरों को लेकर काफी दबाव में हैं.

सीएम ने ट्रूडो को थमाई लिस्ट

कनाडाई पीएम ट्रूडो ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मुलाकात की. मुलाकात में पीएम ट्रूडो ने भारत को भरोसा दिलाया कि उनका देश किसी भी अलगाववादी आंदोलन का समर्थन नहीं करेगा.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, सीएम अमरिंदर सिंह ने इस मुलाकात में कनाडा स्थित 9 उग्रवादियों की एक लिस्ट पीएम को थमाई है. ये 9 उग्रवादी पंजाब में अपराध फैलाने को लेकर वांछित हैं. इन उग्रवादियों पर पंजाब में आतंकी गतिविधियां फैलाने, हथियार सप्लाई करने, पंजाब के युवाओं व बच्चों में कट्टरता पनपाने का आरोप है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi