S M L

सबरीमाला LIVE Updates: सीएम विजयन के काफिले से टकराकर 2 यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता हुए घायल

सबरीमला में भगवान अयप्पा के मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश के विरोध में हिंदू संगठनों द्वारा सुबह से शाम तक 12 घंटे की हड़ताल गुरुवार सुबह शुरू हो गई

| January 03, 2019, 03:28 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Jan 3, 2019

  • 15:22(IST)

    न्यूज-18 के मुताबिक, केरल में मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के काफिले से टकराकर यूथ कांग्रेस के दो कार्यकर्ता घायल हो गए हैं. बताया जा रहा है कि ये कार्यकर्ता मुख्यमंत्री के काफिले को काले झंडे दिखाने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान यह घटना हुई.

  • 13:45(IST)

    एशियानेट के कैमरामैन पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हमला किया

  • 13:27(IST)

    केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बृहस्पतिवार को सबरीमला मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश किए जाने के विरोध में हो रहे प्रदर्शनों को लेकर बीजेपी, आरएसएस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि उनके द्वारा की गई हिंसा से सख्ती से निपटा जाएगा. विजयन ने कहा कि दोनों महिलाएं सबरीमला में 'ऊपर से नहीं उतरीं', बल्कि वे सामान्य भक्तों की तरह ही गई थीं और अन्य श्रद्धालुओं ने उनका विरोध नहीं किया.

  • 12:15(IST)

    सबरीमला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के नाम पर हड़ताल करना उच्चतम न्यायालय के आदेश के खिलाफ हड़ताल करने जैसा : मुख्यमंत्री विजयन

  • 12:02(IST)

    पुलिस की 7 गाड़ियां, केएसआरटीसी की 79 बसों में तोड़फोड़ और 39 पुलिस कर्मियों पर अभी तक हमला हुआ है. जिन पर हमला हुआ है उनमें ज्यादातर महिलाएं शामिल हैं. महिला मीडियाकर्मियों पर भी हमला हुआ है: केरल सीएम पिनराई विजयन

  • 11:58(IST)

    #SabarimalaTemple: मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के खिलाफ सबरीमाला कर्म समिति और बीजेपी के कार्यकर्ता पंडालम में मार्च करते हुए.

  • 11:50(IST)

    केरल सरकार की वजह से हालात बिगड़े, सरकार अलर्ट होती तो हालात न बिगड़े होते. माहौल जल्द ही सामान्य हो: कांग्रेस सांसद शशि थरूर

  • 11:28(IST)

    केरल: एर्नाकुलम में ड्यूटी कर रही स्पेशल ब्रांच की महिला पुलिस कर्मी पर हमला करन को लेकर दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जब कि दो को हिरासत में लिया गया है.

  • 11:26(IST)

    केरल: कोझिकोड मे पुलिस और बीजेपी कार्यकर्ताओं में झड़प.

  • 10:38(IST)

    बीजेपी नेता वी मुरलीधरन ने कहा है कि सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने वाली महिलाएं श्रद्धालु नहीं थीं, वे माओवादी थीं. सीपीएम ने पुलिस की मदद से पूरी प्लानिंग के तहत उन्हें मंदिर में प्रवेश करवाया. ये केरल सरकार और सीपीएम की मिलीभगत से अंजाम दिया गया एक साजिश है.

  • 10:36(IST)

    पंडलम में पथराव और हिंसा के आरोप में दो लोगों को हिरासत में लिया गया है.

  • 10:35(IST)

    हड़ताल की वजह से यात्रियों को बसें मिलने में परेशानी आ रही है. सेंट्रल तिरुवनंतपुरम में एंबुलेंस के जरिए महिलाओं और बुजुर्गों को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाया गया.

  • 10:33(IST)

    एर्नाकुलम पुलिस ने महिलाओं पर हमले के आरोप में बीजेपी के 5 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया है. बताया जा रहा है कि हड़ताल का समर्थन करने वाले महिलाओं के साथ मारपीट कर रहे हैं. उनके मोबाइल छीने गए हैं. उन्हें थप्पड़ मारे गए हैं.

  • 10:30(IST)

    केरल के बीजेपी प्रमुख पीएस श्रीधरन पिल्लई ने सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन पर कहा है कि हमलोग शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन करते रहेंगे. प्रदर्शन कानून के दायरे में होगा.

सबरीमाला LIVE Updates: सीएम विजयन के काफिले से टकराकर 2 यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता हुए घायल

सबरीमला में भगवान अयप्पा के मंदिर में दो महिलाओं के प्रवेश के विरोध में हिंदू संगठनों द्वारा सुबह से शाम तक 12 घंटे की हड़ताल गुरुवार सुबह शुरू हो गई. विभिन्न हिंदुत्ववादी समूहों के एक संयुक्त संगठन 'सबरीमला कर्म समिति' ने राज्यव्यापी बंद बुलाया है, ये संगठन सुप्रीम कोर्ट के 28 सितंबर के फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों की अगुवाई कर रहा है. बीजेपी बंद का समर्थन कर रही है, जबकि कांग्रेस-नीत यूडीएफ गुरुवार को 'काला दिवस' मना रही है.

शुरुआती रिपोर्टों के अनुसार, राज्य की राजधानी में ऑटो रिक्शे और दोपहिया वाहन रेलवे स्टेशन और अन्य स्थानों पर आते जाते दिखाई दिए. लेकिन कोझिकोड में सुबह प्रदर्शनकारियों ने कई जगह वाहनों को रोका और टायर जलाए. पनामारम में 8 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है. पलक्कड़ में सरकारी बसों पर पथराव की खबरें आ रही हैं. ज्यादातर इलाकों में सरकारी बसों की आवाजाही ठप हो गई है. साथ ही कर्नाटक स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन ने हड़ताल के मद्देनजर केरल के लिए बस सेवाएं रोक दी हैं.

गौरतलब है कि रजस्वला आयु वर्ग की दो महिलाओं कनकदुर्गा (44 साल) और बिंदू (42 साल) ने हिन्दूवादी संगठनों की तमाम धमकियों की परवाह न करते हुए बुधवार तड़के भगवान अयप्पा के सबरीमला मंदिर में प्रवेश कर सदियों पुरानी परंपरा तोड़ दी थी. सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल सितंबर में ऐतिहासिक फैसला सुनाते हुए 10 साल से 50 साल की उम्र की महिलाओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी थी. राज्य के डीजीपी लोकनाथ बेहरा ने हड़ताल के दौरान हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की चेतावनी दी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi