S M L

सबरीमाला विवाद: 1500 से ज्यादा लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को रोकने के कारण पिछले दो दिनों में केरल पुलिस ने 1500 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

Updated On: Oct 25, 2018 06:07 PM IST

FP Staff

0
सबरीमाला विवाद: 1500 से ज्यादा लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार
Loading...

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को रोकने के कारण पिछले दो दिनों में केरल पुलिस ने 1500 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. कोर्ट के फैसले के बाद सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने से मासिक धर्म की महिलाओं को रोकने के लिए हिंसा का सहारा लेने वाले प्रदर्शनकारियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने ये कदम उठाया है.

वहीं केरल पुलिस ने 210 लोगों के खिलाफ बड़ा सर्च अभियान चलाया है. ये वो लोग हैं, जिन पर मंदिर में महिलाओं के प्रवेश के विरोध में पिछले हफ्ते सबरीमाला, पंबा और निलाक्कल में हुई हिंसा में शामिल होने का शक है. इन सभी के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया है. सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर हिंसा फैलान वालों की पहचान के लिए सीसीटीवी फुटेज का इस्तेमाल किया जा रहा है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद 17 अक्टूबर को पांच दिवसीय मासिक पूजा के लिए मंदिर खोला गया था. इसके बाद से भक्तों ने मंदिर परिसरों और बेस शिविरों, निलाक्कल और पंबा समेत आस-पास के इलाकों में आंदोलन तेज कर दिया था. सबरीमाला मंदिर परिसर में तनावपूर्ण माहौल देखा गया और कई जगह हिंसा की खबरें सुनने को मिली थी. हालांकि इस दौरान कुछ महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश जरूर की लेकिन सुप्रीम कोर्ट के 10 से 50 साल उम्र की महिलाओं को प्रवेश की अनुमति देने के ऐतिहासिक फैसले के बावजूद एक भी महिला मंदिर में प्रवेश नहीं कर पाई.

दो पत्रकारों समेत अभी तक 9 महिलाओं ने मंदिर में प्रवेश करने की कोशिश की. लेकिन एक भी मंदिर में प्रवेश करने में सफल न हो सकी. इन सभी को श्रद्धालुओं के कड़े विरोध का सामना करना पड़ा. साथ ही मंदिर के मुख्य पुजारी ने भी अल्टीमेटम दिया था कि अगर किसी महिला ने मंदिर में प्रवेश किया, तो वो मंदिर में ताला लगा देंगे. सोमवार को एक महीने के लिए मंदिर के कपाट फिर से बंद हो चुके हैं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi