S M L

Kerala Nun Rape Case: आरोपी बिशप से SIT ने की 7 घंटे पूछताछ

कोट्टयम के पुलिस अधीक्षक (एसपी) हरि शंकर ने पादरी से पूछताछ के बाद कहा कि पहले चरण की पूछताछ पूरी हो गई है. उन्हें पूछताछ जारी रखने के लिए गुरुवार सुबह 11 बजे उपस्थित होने के लिए कहा गया है

Updated On: Sep 19, 2018 10:30 PM IST

Bhasha

0
Kerala Nun Rape Case: आरोपी बिशप से SIT ने की 7 घंटे पूछताछ

नन से बलात्कार के आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल से केरल पुलिस ने बुधवार को सात घंटे तक पूछताछ की और गुरुवार को भी पूछताछ जारी रहेगी. विशेष जांच दल (एसआईटी) की अगुवाई कर रहे पुलिस उपाधीक्षक के सुभाष ने अपराध शाखा के कार्यालय में 54 वर्षीय पादरी से पूछताछ की. मुलक्कल ने हाल ही में जालंधर डियोसेस के बिशप पद से इस्तीफा दे दिया था.

कोट्टयम के पुलिस अधीक्षक (एसपी) हरि शंकर ने पादरी से पूछताछ के बाद कहा कि पहले चरण की पूछताछ पूरी हो गई है. उन्हें पूछताछ जारी रखने के लिए गुरुवार सुबह 11 बजे उपस्थित होने के लिए कहा गया है. इस पर वह राजी हो गए हैं. सुभाष के साथ पूछताछ करने वाले शंकर ने बताया कि पादरी जांच में सहयोग कर रहे हैं.

पूछताछ के बाद बयानों में विरोधभास का मामला सुलझ जाएगा

पुलिस ने पहले पीड़िता, गवाहों और मुलक्कल के बयानों में ‘विरोधाभास’ होने का दावा किया था. इसके बारे में पूछे जाने पर शंकर ने कहा कि यही पूछताछ का उद्देश्य था. पूछताछ अभी खत्म नहीं हुई है. पूछताछ खत्म होने के बाद हम इस पर विचार करेंगे.

इससे पहले मुलक्कल अपनी निजी कार से सुबह 10:55 बजे अपराध शाखा (क्राइम ब्रांच) के कार्यालय पहुंचे थे. उन्होंने अग्रिम जमानत के लिए मंगलवार को केरल हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था.

कानूनी विशेषज्ञों ने कहा कि 25 सितंबर से पहले पादरी के गिरफ्तार होने की संभावना नहीं है. उसी दिन उनकी अग्रिम जमानत याचिका पर हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. हालांकि उनकी गिरफ्तारी में कोई कानूनी अड़चन नहीं है. नन ने कैथोलिक पादरी पर आरोप लगाया है कि उन्होंने 2014 से 2016 के बीच कई बार उससे बलात्कार किया.

बिशप का दावा- मेरे खिलाफ यह कहानी गढ़ी हुई है

मुलक्कल ने दावा किया है कि उनके खिलाफ आरोप एक गढ़ी हुई कहानी है, जिसका उद्देश्य नन के खिलाफ मिली कई शिकायतों पर उनके द्वारा की गई कार्रवाई का बदला लेना है. बिशप ने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि यह शिकायत ‘महज काल्पनिक कहानी है.’

बिशप के जांच से सहयोग करने के बीच विभिन्न कैथोलिक सुधार संगठनों और ननों के एक समूह द्वारा मुलक्कल की गिरफ्तारी की मांग बुधवार 12 वें दिन भी जारी रही.

अनशन कर रही पीड़िता की एक बहन को उसकी हालत बिगड़ने पर बुधवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया. बिशप की गिरफ्तारी की मांग को लेकर पुलिस महानिरीक्षक के कार्यालय तक मार्च निकाला गया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi