S M L

केरल नन रेप केस: आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने छोड़ा अपना पद

आरोपी बिशप ने कहा कि उन्होंने जांच पूरी होने तक अपना पद छोड़ने का फैसला लिया है. इसलिए उन्होंने यह जिम्मेदारी डिप्टी बिशप को सौंप दी है

Updated On: Sep 15, 2018 03:38 PM IST

FP Staff

0
केरल नन रेप केस: आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने छोड़ा अपना पद

चर्चित नन रेप मामले में आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने जांच पूरी होने तक अपना पद छोड़ने का फैसला किया है. उन्हें 19 सितंबर को पुलिस जांच दल के सामने पेश होना है. ऐसे में उन्होंने फिलहाल यह जिम्मेदारी डिप्टी बिशप को सौंप दी है.

बिशप ने डिप्टी बिशप को पदभार सौंपने से पहले कहा, 'मैं सबकुछ भगवान के ऊपर छोड़ कर जा रहा हूं. जब तक मेरे खिलाफ की जा रही जांच पूरी नहीं हो जाती तब तक मैथ्यू कोक्कणम प्रांत के बिशप होंगे.'

बता दें कि केरल में नन से रेप मामले में आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने खुद को निर्दोष बताया था. न्यूज़18 से बातचीत में बिशप ने कहा था कि वो निर्दोष हैं और उन्हें साजिश के तहत फंसाया जा रहा है.

केरल पुलिस ने एक नन से बलात्कार के आरोपी और जालंधर के बिशप फ्रैंको मुल्लकल को 19 सितंबर तक जांच टीम के सामने पेश होने को कहा है.

मुल्लकल के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए पुलिस पर बढ़ रहे दबाव के बीच एर्नाकुलम क्षेत्र के आईजी साखरे की अध्यक्षता में हुई एक बैठक के बाद बिशप को तलब करने का फैसला लिया गया.

Kochi: Nuns, supported by women from the Muslim community, protest against the delay in action on a Roman Catholic church bishop who is accused of sexually exploiting a nun, in Kochi, Tuesday, Sept 11, 2018. (PTI Photo) (PTI9_11_2018_000103B)

नन के रेप और यौन शोषण की घटना के खिलाफ केरल के अलग-अलग शहरों में ननों ने विरोध किया  (फोटो: पीटीआई)

पीड़ित नन ने इंसाफ के लिए वेटिकन से हस्तक्षेप की मांग की

नन ने हाल ही में इंसाफ के लिए वेटिकन (ईसाइयों की सर्वोच्च संस्था) से इस मामले में फौरन हस्तक्षेप करने की मांग की थी. पीड़ित नन ने भारत में वेटिकन के प्रतिनिधि जियामबटिस्टा दिक्वात्रो को एक पत्र लिखकर मामले की जांच कराने और बिशप फ्रैंको को पद से हटाने की गुहार लगाई थी.

उन्होंने फ्रैंको को हटाने की मांग करते हुए कहा था कि चर्च सच्चाई के प्रति आंखें क्यों मूंदे हुए है, जबकि उन्होंने अपनी पीड़ा सार्वजनिक करने का साहस दिखाया है. 8 सितंबर, 2018 को लिखे गए 7 पन्नों की इस चिट्ठी में नन ने कहा था कि चर्च की चुप्पी मुझे अपमानित महसूस करा रही है.

कोट्टयम जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी) को की गई शिकायत में नन ने आरोप लगाया है कि उसका 13 बार यौन उत्पीड़न किया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi