S M L

केरल: जब मास्क और दस्ताने पहनकर विधानसभा पहुंचा विधायक

मुख्यमंत्री पी विजयन ने कहा कि सदस्य का व्यवहार एक गंभीर मुद्दे को ‘महत्वहीन’ बनाने के समान है

Updated On: Jun 04, 2018 05:27 PM IST

Bhasha

0
केरल: जब मास्क और दस्ताने पहनकर विधानसभा पहुंचा विधायक

केरल के कोझीकोड जिले में निपाह वायरस के प्रभाव को दिखाने के लिए आईयूएमएल के विधायक ने राज्य विधानसभा की कार्यवाही में मास्क और दस्ताने पहनकर हिस्सा लिया. इसके बाद सत्तारूढ़ एलडीएफ और विपक्षी यूडीएफ के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई.

कुट्टीयाडी से विधायक पी अब्दुल्लाह विधानसभा में मास्क और दस्ताने पहनकर पहुंचे थे जिसके बाद उन्होंने विपक्षी सदस्यों का अभिवादन किया.

मुख्यमंत्री पी विजयन ने कहा कि सदस्य का व्यवहार एक गंभीर मुद्दे को ‘ महत्वहीन ’बनाने के समान है. वही स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने इसे ‘ हास्यापद’ बताया.

राज्य में इस घातक वायरस का प्रकोप सामने आने के बाद कड़ी निगरानी की जा रही है. निपाह वायरस की पुष्टि होने के बाद से सरकार ने इसे फैलने से रोकने के लिए सभी जरूरी कदम उठाए हैं.

क्या थी वजह?

विजयन ने कहा कि विधायक ने मास्क पहनकर सदन में आकर खुद का मजाक बनाया है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि मास्क कुछ विशेष कारणों से पहना जाता है. उन्होंने कहा कि अगर विधायक को ये बिमारी है तो उन्हें सदन में नहीं आना चाहिए था.

विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथला ने कहा कि विधायक ने उन्हें बताया है कि कोझीकोड में सब मास्क पहन रहे हैं. इसलिए वह सांकेतिक तौर पर सदन में मास्क पहनकर आए हैं. अब्दुल्लाह ने कहा कि उन्होंने कुट्टीयाडी पेरमबरा क्षेत्र में स्थिति के प्रति सरकार का ध्यान आकर्षित करने के लिए ऐसा किया. यही क्षेत्र निपाह का केंद्र है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi