S M L

केरल 'लव जेहाद' मामलाः 1 साल बाद पति से मिली हदिया

दोनों की मुलाकात 2 घंटे तक चली और इस पूरी मुलाकात की सीसीटीवी कैमरे से रिकॉर्डिंग की गई

FP Staff Updated On: Dec 09, 2017 05:22 PM IST

0
केरल 'लव जेहाद' मामलाः 1 साल बाद पति से मिली हदिया

केरल के तथाकथित ‘लव जेहाद’ केस की वजह से चर्चित हदिया लगभग एक साल बाद अपने पति शफीन जहां से मिली. पिछले साल 3 दिसंबर को हदिया अपने पति शफीन जहां से अलग हो गई थी.

न्यूज मिंट की रिपोर्ट के अनुसार दोनों की मुलाकात 2 घंटे तक चली और इस पूरी मुलाकात की सीसीटीवी कैमरे से रिकॉर्डिंग की गई.

शफीन ने कहा कि यह मुलाकात काफी भावनात्मक थी. हदिया काफी खुश थी...उसके पास मुझसे इस मुलाकात में बहुत-कुछ साझा करने को था. जहां ने यह भी कहा कि किसी को इस मुलाकात से कोई आपत्ति नहीं थी. यह हदिया की इच्छा थी कि वो मुझसे बात करना चाहती थी और कोर्ट ने उसे किसी से भी मुलाकात करने की इजाजत दे रखी है. मैं अपने साथ कोर्ट के आदेश की कॉपी लेकर आया था...और मेरे वकील मेरे साथ कॉलेज तक आए थे.

हदिया का हिंदू नाम ‘अखिला अशोकन’ है और शफीन जहां से शादी करके उसने इस्लाम को अपना लिया था. जब उसके पिता अशोकन को इस बात का पता चला तो उन्होंने इसे ‘लव जेहाद’ कहते हुए केरल हाई कोर्ट में इस शादी को रद्द करने के लिए अपील की थी. हदिया के पिता ने आरोप लगाया था कि उसकी बेटी को किसी ने बहका दिया है और वह जेहाद के लिए सीरिया जाना चाहती है.

केरल हाई कोर्ट ने रद्द कर दी थी शादी

इससे पहले केरल हाईकोर्ट ने अखिला उर्फ हादिया की शादी रद्द करते हुए उसे उसके पिता के हवाले कर दिया था. केरल हाईकोर्ट ने केरल पुलिस को आतंकी तार की जांच करने के आदेश दिए थे. पुलिस की जांच में अभी तक कुछ साफ नहीं हो पाया है.

इसके बाद हदिया उर्फ अखिला के पति शफीन जहां ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर मांग की थी कि उसकी पत्नी हदिया को उसके हवाले किया जाए. शफीन जहां का कहना था कि कि उसने हदिया से शादी कर ली है और उसकी पत्नी ने अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन किया है.

सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के बाद हदिया को उसके माता-पिता की हिरासत से मुक्त कर दिया था और उससे पढ़ाई करने को कहा था. हालांकि अदालत पति के साथ जाने देने की उसकी अपील पर राजी नहीं हुई थी.

हदिया ने सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान कहा था कि वह अपने पति के साथ रहना चाहती है और अपनी मर्जी से धर्म परिवर्तन किया है.

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद हदिया अखिला के नाम से तमिलनाडु के सलेम में शिवराज होम्यापैथी मेडिकल कॉलेज में इंटर्नशिप कर रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi