S M L

KeralaFlood: बाढ़ पीड़ितों का ओमान में उड़ाया मज़ाक, नौकरी गई

हालांकि राहुल ने फेसबुक पर अपने उस कमेंट के लिए माफी मांग और फेसबुक पर पोस्ट किए गए एक वीडियो मैसेज में कहा, 'मैंने जो किया उसके लिए मैं दिल से माफी मांगता हूं. मैंने वो मैसेज शराब के नशे में पोस्ट किया था

Updated On: Aug 20, 2018 03:43 PM IST

FP Staff

0
KeralaFlood: बाढ़ पीड़ितों का ओमान में उड़ाया मज़ाक, नौकरी गई

खलीज टाइम्स के अनुसार ओमान में काम कर रहे केरल के एक व्यक्ति को उसकी कंपनी ने निकाल दिया है. कंपनी ने कथित तौर पर उस व्यक्ति द्वारा केरल में बाढ़ प्रभावित पीड़ितों के लिए एक असंवेदनशील पोस्ट करने पर यह कदम उठाया.

लुलू ग्रुप इंटरनेशनल के कर्मचारी राहुल चेरू पलायट्टू ने कथित रूप से सहायता के लिए अपील करने वाले स्वयंसेवकों के फेसबुक पोस्ट के जवाब में बाढ़ पीड़ितों की सैनिटरी जरुरतों का मजाक उड़ाया था. ओमान में लुलु के एचआर मैनेजर ने राहुल के टर्मिनेशन लेटर पर लिखा, 'सोशल मीडिया पर भारत के केरल में मौजूदा बाढ़ की स्थिति के संबंध में आपकी अत्यधिक असंवेदनशील और अपमानजनक टिप्पणियों के कारण हम तत्काल प्रभाव से आपकी सेवा समाप्त कर रहे हैं.'

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक हालांकि राहुल ने फेसबुक पर अपने उस कमेंट के लिए माफी मांग और फेसबुक पर पोस्ट किए गए एक वीडियो मैसेज में कहा, 'मैंने जो किया उसके लिए मैं दिल से माफी मांगता हूं. मैंने वो मैसेज शराब के नशे में पोस्ट किया था. उस समय मुझे बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि मैंने क्या किया है.'

लुलु समूह के सीसीओ वी नंदकुमार, ने खलीज टाइम्स को बताया कि संगठन ने 'उसकी सेवाओं को समाप्त करने के लिए हमने तत्काल कदम उठाया और इस तरह के मुद्दों पर हमारे रुख के बारे में समाज को साफ संदेश दिया है.' उन्होंने कहा, 'एक संगठन के रूप में हम हमेशा ही मानवतावादी मूल्यों और सर्वोच्च नैतिक प्रथाओं के लिए खड़े हुए हैं.'

लुलु समूह के संस्थापक और प्रबंध निदेशक, यूसुफ अली भी केरल से हैं. उन्होंने अब तक केरल में राहत और पुनर्वास कार्यों के लिए 9.23 मिलियन दिरहम यानी 17,53,05,178.48 करोड़ केरल राहत कोष में दान दिए हैं. संयुक्त अरब अमीरात सरकार केरल में पीड़ितों की सहायता के लिए एक कमिटि बनाई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi