S M L

कठुआ: बच्ची के साथ हुआ था बलात्कार, मीडिया में फैल रही 'खबरें' गलत- जम्मू कश्मीर पुलिस

मीडिया में छपी कुछ रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि कठुआ में पीड़िता का बलात्कार नहीं हुआ था, पुलिस ने इसका खंडन किया है

Updated On: Apr 21, 2018 11:31 PM IST

FP Staff

0
कठुआ: बच्ची के साथ हुआ था बलात्कार, मीडिया में फैल रही 'खबरें' गलत- जम्मू कश्मीर पुलिस

शुक्रवार को देश के बड़े अखबार ने खबर लगाई थी. जिसमें कहा गया था कि कठुआ की बच्ची का रेप नहीं हुआ था. जम्मू और कश्मीर पुलिस ने स्पष्टीकरण जारी कर ऐसी सारी खबरों को गलत बताया है. पुलिस ने ट्विटर पर एक लेटर जारी कर कहा है,

‘पिछले दिनों हीरानगर, कठुआ पुलिस थाने की 12.01.2018 को दर्ज एफआईआर संख्या 10/2018 के संदर्भ में पिछले दिनों प्रिंट/इलेक्ट्रॉनिक और सोशल मीडिया में कई तरह की जानकारियां साझा की जा रही हैं. जांच की सभी कानूनी औपचारिकताओं के बाद इस मामले की चार्जशीट संबंधित कोर्ट में जमा करवा दी गयी है और जांच एजेंसी पूरक चार्जशीट भी जमा करवाने की प्रक्रिया में है.

इस बीच बीते दो दिनों में मीडिया के विभिन्न माध्यमों पर जानकारी/रिपोर्ट शेयर की जा रही है, जो सच नहीं है.

इस तरह की मीडिया रिपोर्ट्स के चलते यह रिकॉर्ड पर रखा जाता है कि मेडिकल एक्सपर्ट्स की राय के आधार पर इस बात की पुष्टि की जा चुकी है कि आरोपियों द्वारा पीड़िता का यौन उत्पीड़न किया गया था… इसी के आधार पर मामले में सीआरपीसी की धारा 376 (डी) जोड़ी गई थी.’

इन मीडिया रिपोर्ट्स पर जम्मू कश्मीर पुलिस के एसएसपी (क्राइम) रमेश जाला का कहना है, ‘पिछले दिनों प्रसारित की गई मीडिया रिपोर्ट्स गलत हैं. जांच रिपोर्ट में साफ कहा गया है कि पीड़िता का यौन उत्पीड़न किया गया था और ऐसा मेडिकल विशेषज्ञों की राय की आधार पर कहा गया है.’

गौरतलब है कि 10 जनवरी को कठुआ के रसाना गांव से 8 साल की एक लड़की गायब हो गई थी. बाद में उसकी लाश जंगल में मिली. पुलिस की चार्जशीट में बताया गया है कि लड़की को मंदिर में बंधक बनाकर रखा गया था. उसका सामुहिक बलात्कार करने के बाद हत्या कर दी गई. बलात्कार के आरोपियों के समर्थक में लोगों के आने और घटना को धार्मिक रंग दिए जाने के बाद इस घटना से जु़ड़ी कई अफवाहे भी फैलाई गईं. घटना के विरोध में भी कई प्रदर्शन हुए. इस बीच मीडिया के कुछ हिस्सों में खबर चली कि कठुआ में पीड़िता के साथ बलात्कार हुआ ही नहीं था. पुलिस ने लिखित बयान जारी कर इसका खंडन किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi