S M L

कठुआ केस: बीजेपी के दो मंत्रियों ने दिया इस्तीफा, सियासत तेज

विपक्षी नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से उनके मंत्रिमंडल के दो सदस्यों को बर्खास्त करने की मांग की थी

Updated On: Apr 13, 2018 10:28 PM IST

FP Staff

0
कठुआ केस: बीजेपी के दो मंत्रियों ने दिया इस्तीफा, सियासत तेज

कठुआ में आठ वर्षीय बच्ची से गैंगरेप और हत्या में नए खुलासे के बाद देशभर में व्यापक स्तर पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. बीजेपी और पीडीपी गठबंधन में भी इस घटना की वजह से दरारें बढ़ीं हैं. जम्मू-कश्मीर के दो मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. बीजेपी के मंत्री चंद्र प्रकाश गंगा और लाल सिंह ने अपना इस्तीफा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सत शर्मा को सौंप दिया है. सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने बीजेपी से कहा था कि वह दोनों मंत्रियों को हर हाल में हटाए.

मंत्रियों ने किया था आरोपियों का बचाव

विपक्षी नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से उनके मंत्रिमंडल के दो सदस्यों को बर्खास्त करने की मांग की थी. इन मंत्रियों ने कठुआ बलात्कार और हत्या मामले में आरोपियों का बचाव करने का कथित तौर पर प्रयास किया था.

उमर अब्दुल्ला ने जताई थी नाराजगी

पूर्व मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा , 'महबूबा मुफ्ती को यह फैसला करना है कि क्या वह उन मंत्रियों के साथ काम करने को तैयार हैं , जो लड़की के हत्यारों को बचाने का प्रयास कर रहे हैं.' इससे पहले राज्य के वन मंत्री चौधरी लाल सिंह और राज्य के वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री चंद्र प्रकाश गंगा : दोनों बीजेपी से : ने आरोपी के समर्थन में हिंदू एकता मंच द्वारा आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया.

अब्दुल्ला ने कहा , 'पीड़िता के हत्यारों के समर्थन में आयोजित रैली में हिस्सा लेने वाले मंत्रियों , इस मामले में पुलिस को किसी को गिरफ्तार नहीं करना चाहिये यह बात करने वाले मंत्रियों , अपने ही पुलिस बल पर उंगली उठाने वाले मंत्रियों , राज्य में जंगल राज होने की बात कहने वाले मंत्रियों को मंत्रिमंडल में बने रहने का कोई हक नहीं है.'

अब्दुल्ला ने कहा कि महबूबा को बीजेपी के मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई करने में भी वही साहस दिखाना होगा , जैसा उन्होंने पीडीपी नेता और राज्य के तत्कालीन वित्त मंत्री हसीब द्राबू को बर्खास्त करने में दिखाया था.

उन्होंने कहा , 'महबूबा मुफ्ती ने हसीब द्राबू के खिलाफ कार्रवाई की. मैं नहीं मानता कि उनका अपराध बीजेपी के इन मंत्रियों जितना बड़ा था. अगर महबूबा कहती हैं कि उन्होंने द्राबू के खिलाफ कार्रवाई करने में साहस का परिचय दिया तो उन्हें इन मंत्रियों के विरूद्ध कार्रवाई करने में भी वैसी ही हिम्मत दिखानी चाहिये.'

अब्दुल्ला ने कहा कि पीडीपी प्रवक्ता का यह कहना कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में बीजेपी के मंत्रियों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे , यह सिर्फ बहाना है. उन्होंने कहा , 'प्रधानमंत्री कार्रवाई करेंगे , यह सिर्फ बहाना है. प्रधानमंत्री जम्मू कश्मीर के मंत्रियों पर कार्रवाई नहीं करते हैं. मुख्यमंत्री को फैसला करने का अधिकार होता है कि कौन राज्य मंत्रिमंडल में मंत्री होगा.' गौरतलब है कि आठ वर्षीय बच्ची कठुआ में अपने घर के पास से गत 10 जनवरी को लापता हो गई थी. उसका शव उसी इलाके में एक सप्ताह बाद बरामद किया गया था.

(साभार: न्यूज़18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi