S M L

J&K: मुठभेड़ वाले इलाके में जाने से बचे और न करें सेना पर पथराव: आर्मी

लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने कहा कि हम कश्मीर के लोग और युवाओं से नाराज नहीं हैं क्योंकि वो हमारे ही हैं, यह हमारा कर्तव्य है कि हम उनकी सेवा करें

FP Staff Updated On: Jul 14, 2018 09:24 PM IST

0
J&K: मुठभेड़ वाले इलाके में जाने से बचे और न करें सेना पर पथराव: आर्मी

लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने शनिवार को कहा कि कश्मीर के युवा और यहां के लोग हमारे अपने हैं. उन्होंने कश्मीरी युवाओं से अपील की कि जिस इलाके में आर्मी के ऑपरेशन्स चल रहे हो उस इलाकों में जाने से बचे और सेना के लोगों पर पत्थरबाजी न करें. उन्होंने कहा कि हम कश्मीर के लोग और युवाओं से नाराज नहीं हैं क्योंकि वो हमारे ही हैं. यह हमारा कर्तव्य है कि हम उनकी सेवा करें.

जनरल भट्ट के बयान से एक दिन पहले ठीक ऐसा ही बयान जम्मू-कश्मीर पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने भी दिया था. वैद ने अपील करते हुए कहा था कि लोगों की जानें सुरक्षित रखने के क्रम में मुठभेड़ स्थलों के निकट जाकर सेना पर पथराव नहीं करना चाहिए क्योंकि सेना उनकी अपनी ही है.

पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने संवाददाताओं से कहा कि अगर किसी की जान इस तरह से जाती है तो हमें दुख होता है. इसलिए हम लोगों से अपील कर रहे हैं कि जहां-कहीं भी मुठभेड़ हो, लोगों को वहां जाकर सेना पर पथराव नहीं करना चाहिए क्योंकि यह सेना हमारी है. वैद ने कहा कि वह उन परिवारों के दुख को महसूस कर सकते हैं जिन्होंने इस तरह की घटना में अपने बच्चों को खोया.

उन्होंने कहा कि जिन परिवारों ने इसमें अपना बच्चा खोया है, उनके दुख को हम महसूस कर सकते हैं. हम जानते हैं कि यह कितना मुश्किल है! हम दोबारा सभी से अपील करते हैं कि ऐसा नहीं होना चाहिए और उन्हें मुठभेड़ स्थल के निकट जाकर सेना पर पथराव नहीं करना चाहिए.

वैद ने कहा कि पुलिस ने पथराव की घटनाओं के दौरान जान की क्षति को रोकने के संबंध में सेना और सीआरपीएफ से बातचीत की है. उन्होंने कहा कि हमने सेना के अधिकारियों और सीआरपीएफ से बात की है कि इस तरह की घटनाओं में जान की क्षति से कैसे बचा जा सकता है.

(इनपुट भाषा से)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi