S M L

पुणे में कश्मीरी छात्रों ने की अलग नोडल अधिकारी नियुक्त करने की मांग

छात्रों ने यह मांग हरियाणा में दो कश्मीरी छात्रों से मारपीट की घटना के बाद की है

Updated On: Feb 04, 2018 06:16 PM IST

FP Staff

0
पुणे में कश्मीरी छात्रों ने की अलग नोडल अधिकारी नियुक्त करने की मांग

कश्मीरी छात्रों और पेशेवरों ने अपने मुद्दों को हल करने के लिए पुणे में एक ‘नोडल पुलिस अधिकारी’ की नियुक्ति की मांग की है. छात्रों ने यह मांग हरियाणा में दो कश्मीरी छात्रों से मारपीट की घटना के बाद की है.

जम्मू कश्मीर के करीब 100 छात्रों और पेशेवरों ने शनिवार को पुणे की पुलिस आयुक्त रश्मि शुक्ला से मुलाकात की और शहर में अपनी सुरक्षा के संबंध में चिंताएं जताई. इस मुलाकात का आयोजन सरहद नाम की एक संस्था ने कराया जो कश्मीरी युवाओं को शिक्षा मुहैया कराने और उन्हें मुख्यधारा में शामिल करने के मिशन पर काम कर रही है. वर्तमान में पुणे में जम्मू कश्मीर के 400 से अधिक छात्र-छात्राएं पढ़ाई कर रहे हैं.

पोस्ट ग्रेजुएशन के एक छात्र ओवैस वानी ने रश्मि शुक्ला से मुलाकात के दौरान कहा, ‘अगर किसी भी कश्मीरी छात्र या पेशेवर के साथ कोई घटना होती है तो उसके पास सरहद के संस्थापक संजय नाहर सर से संपर्क करने के अलावा और कोई नहीं होता. कोई विशेष नोडल पुलिस अधिकारी खासतौर से जम्मू कश्मीर से किसी अधिकारी को पुणे में नियुक्त किया जाना चाहिए. ताकि यहां पढ़ाई कर रहे कश्मीरी छात्रों के मुद्दों को सुलझाया जा सकें.’

कुछ छात्रों ने पुलिस और अन्य अधिकारियों द्वारा कश्मीरी लोगों के साथ किए जाने वाले व्यवहार की बातें और अपने अनुभव साझा किए.

बता दें कि पिछले दिनों हरियाणा के महेंद्रगढ़ में जुमे की नमाज के बाद करीब 15 लोगों ने जम्मू कश्मीर के दो छात्रों की कथित तौर पर पिटाई की थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi