S M L

हुर्रियत का नया कैंलेडर: हफ्ते में 5 दिन शांत रहेगा कश्मीर

हुर्रियत ने पुराने कैंलेडर में ढिलाई देने के दबाव के बाद यह नया कैंलेडर जारी किया है.

Updated On: Dec 15, 2016 08:30 AM IST

Sameer Yasir

0
हुर्रियत का नया कैंलेडर: हफ्ते में 5 दिन शांत रहेगा कश्मीर

हुर्रियत कॉन्फ्रेंस ने कश्मीर के लोगों के लिए नया कैंलेडर जारी किया है. इसमें लोगों से कहा गया है कि वह केवल शुक्रवार और शनिवार को विरोध-प्रदर्शन व हड़ताल करें. इस कैंलेडर का मतलब है कि अब घाटी में हर हफ्ते 5 दिन शांति रह सकती है. इससे हालिया हिंसा से परेशान क्षेत्र को थोड़ी राहत मिल सकती है.

हुर्रियत ने पुराने कैंलेडर में ढिलाई देने के दबाव के बाद यह नया कैंलेडर जारी किया है. हुर्रियत की ओर से जारी बयान में कहा गया, 'हमारे नेतृत्व को लगता है कि आगे का रास्ता सक्रिय पहलों, प्रोग्रामों और विरोध के दीर्घकालिक तरीकों पर आधारित एक लंबी दूरी की रणनीति का है. हम लोगों की ज्यादा से ज्यादा भागीदारी चाहते हैं लेकिन जिसके लिए जनता को कम से कम कीमत चुकानी पड़े.'

सैयद अली गिलानी, मीरवाइज उमर फ़ारूक़, और यासीन मलिक ने कहा, 'पिछले 6 महीने में जनता के विरोध ने हमारी आजादी की लड़ाई को आगे बढ़ाया है और हमारे संघर्ष के लिए संभावनाएं और अवसर बढ़े हैं. हम अपनी मंजिल के करीब पहुंचे हैं.'

इस नए कैंलेडर में अलगालवादी नेताओं ने हफ्ते में सिर्फ दो दिन की हड़ताल की बात कही है और लोगों को उनके बिजनेस, आराम और अन्य कामों के लिए अधिक समय दिया है.

घाटी के लोगों ने इस फैसले का स्वागत किया और कहा कि यह ढिलाई दो महीने पहले ही देनी चाहिए थी ताकि हजारों को बेरोजगार करने वाली आर्थिक नाकेबंदी में राहत मिल पाती. घाटी में 8 जुलाई को सुरक्षाबलों के साथ एनकाउंटर में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद से ही लगातार हिंसा और विरोध-प्रदर्शन चल रहे हैं. हफ्तों से कर्फ्यू और बंद में राहत न मिलने से लोग परेशान हो चले हैं. 9 जुलाई से हो रही हिंसा में 100 से अधिक लोगों की मौत हुई है जबकि हजारों घायल हुए हैं.

जम्मू और कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी माना है कि पिछले 5 महीनों में प्रदर्शनकारियों के खिलाफ जरूरत से ज्यादा ताकत का इस्तेमाल किया गया. मुफ्ती ने जम्मू और कश्मीर पुलिस के पुलवामा स्थित कमांडो ट्रेनिंग सेंटर में पासिंग-आउट परेड में कहा कि आम जिंदगी पटरी पर लौट रही है. मुफ्ती ने उम्मीद जताई कि पुलिस सहयोग करेगी और लोगों के साथ अपने व्यवहार में बदलाव करेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi