S M L

कश्मीर: पत्थरबाजी में घायल इक़रा ने कहा, 'फिर कभी प्रोटेस्ट नहीं करूंगी'

इक़रा अपने दोस्तों के साथ कश्मीर में सुरक्षा बलों के विरोध में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रही थी

Updated On: Apr 24, 2017 12:05 PM IST

FP Staff

0
कश्मीर: पत्थरबाजी में घायल इक़रा ने कहा, 'फिर कभी प्रोटेस्ट नहीं करूंगी'

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में बुधवार को छात्रों पर की गई पुलिस कारवाई में कई छात्र घायल हो गए थे. घायलों में 17 साल की इकरा भी थी. वो अस्पताल के बेड पर है. उसका कहना है कि अब वो कभी विरोध प्रदर्शन नहीं करेगी.

दरअसल ये छात्र प्रदर्शन कर रहे थे. 17 साल की इकरा को पुलिस की कारवाई में गंभीर चोटें आईं. उसके सिर में फ्रैक्चर हुआ है. पट्टियों से सिर ऐसे बंधा है कि सिर्फ आंखे दिखाई दे रही हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार इक़रा ने बताया कि पिछले हफ्ते सैकड़ों प्रदर्शनकारी छात्रों के साथ इक़रा भी शांतिपूर्ण ढंग से शामिल थी. तभी कुछ छात्रों ने सेना और पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू कर दी.

इसके बाद सेना की तरफ से जवाबी पत्थरबाजी हुई और एक पत्थर मेरे सिर पर आकर गिरा. मैं वहीं गिर पड़ी और बेहोश हो गई. इक़रा का इलाज कर रहे डॉक्टर का कहना है कि इसके सिर में गंभीर चोटें आई हैं.

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: सेना की गाड़ी से आदमी बांधने को सही ठहराना कितना जायज है?

हथियारों से लैस सेना कॉलेज में आई थी

छात्रों का कहना है कि हथियारों से लैस वाहनों में पहुंचे सैनिकों ने उनके कॉलेज पर छापेमारी की, जबकि सेना कहती है कि वह एक कला प्रदर्शनी की चर्चा के लिए प्रिंसिपल से मुलाकात करने गई थी.

इक़रा की बहन सायमा ने बताया, ‘इकरा श्रीनगर के नावकदल कॉलेज में कॉमर्स फर्स्ट इयर की स्टूडेंट है. वो अपने दोस्तों के साथ शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन कर रही थी. हम नहीं चाहते थे कि सुरक्षा बल हमारे कैंपस में आएं. हम यहां पढ़ने के लिए आए हैं.’

इस प्रदर्शन के दौरान कुछ छात्रों ने सीआरपीएफ के बंकर में चढ़कर पत्थर फेंकने शुरू कर दिए. पुलिस की जवाबी कार्रवाई में इक़रा बुरी तरह से घायल हो गई है.

साल 2016 में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की हत्या के बाद पत्थरबाजी की घटनाओं में हजारों नागरिकों और सुरक्षाबलों की मौत हो गई थी.

जब इक़रा से पूछा गया कि क्या वह दोबारा प्रदर्शन करेगी, तो उसने इशारे में 'ना' कहा. हालांकि डॉक्टर ने अभी बताया है कि इक़रा को ठीक होने में लगभग 3 महीने लग जाएंगे.

ये भी पढ़ें: कश्मीर: अलग तरीके के प्रदर्शन से सरकार को घेर रहा छात्रों का नया संगठन

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi