S M L

कासगंज हिंसा: 49 लोग हिरासत में, 1 दिन के लिए इंटरनेट सेवा बंद

गणतंत्र दिवस के दिन तिरंगा यात्रा में हिस्सा ले रहे चंदन की दो समुदायों के बीच हुए हिंसक झड़प में गोली लगने से मौत हो गई थी

Updated On: Jan 27, 2018 10:26 PM IST

FP Staff

0
कासगंज हिंसा: 49 लोग हिरासत में, 1 दिन के लिए इंटरनेट सेवा बंद

कासगंज मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है. इलाके में तनाव का माहौल बरकार है. कासगंज जिलाधिकारी आरपी सिंह ने बताया कि अबतक 49 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. सेक्शन 144 इलाके में अभी तक लागू है. जिले की सीमा अभी भी सील है.

इसके अलावा अफवाहों को रोकने के लिए 27 जनवरी के शाम 5 बजे से लेकर 28 जनवरी के रात 10 बजे तक इंटरनेट सेवाओं को भी बंद कर दिया गया है.

प्रिंसिपल सेक्रेटरी (गृह) अरविंद कुमार ने कहा कि हिंसा की खबर मिलते ही कासगंज में पुलिस बल को भेज दिया गया. शनिवार को आगजनी की छिटपुट खबरें मिलीं लेकिन किसी भी हिंसा की खबर नहीं है. हालात नियंत्रण में हैं. मुख्यमंत्री खुद हालात पर निगाह रखे हुए हैं.

उत्तर प्रदेश के कासगंज में तिरंगा यात्रा के दौरान भड़की सांप्रदायिक हिंसा में मारे गए युवक चंदन का शनिवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया. चंदन की मौत के बाद इलाके में तनाव का माहौल है. इसे देखते हुए इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया है. कर्फ्यू के बाद भी हंगामा कर रहे लोगों ने दो बसों को आग के हवाले कर दिया. पुलिस को आग पर काबू पाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी.

पुलिस प्रशासन लगातार लोगों से शांति बनाए रखने की अपील कर रहा है लेकिन उसकी यह अपील बेअसर होती दिख रही है. शनिवार को एक बार फिर यहां हंगामा हुआ और हिंसा भड़क उठी. उपद्रवी अपने हाथों में पेट्रोल और डीजल से भरी बोतल लेकर घूम रहे थे और उन्होंने कई जगहों पर आगजनी की. बताया जा रहा है कि चंदन के अंतिम संस्कार के बाद ये हिंसा और आगजनी शुरू हुई.

मृतक चंदन का अंतिम संस्कार कासगंज स्थित काली नदी के किनारे बाकनेर में भारत विकास परिषद द्वारा बनाए गए मुक्ति धाम में किया गया. पुलिस प्रशासन ने भारी सुरक्षा इंतजाम के बीच अंतिम संस्कार करवा लिया लेकिन उसके बाद दोबारा हिंसा भड़क उठी है.

राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चंदन की मौत पर गहरा दुख जताते हुए  प्रशासन को पीड़ित परिवार की हर संभव मदद करने का निर्देश दिया है. साथ ही प्रशासन को उपद्रवी तत्वों से सख्ती से निपटने के भी निर्देश दिए हैं.

इस बीच पुलिस ने इस मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया है.

शुक्रवार को गणतंत्र दिवस पर नगर कोतवाली क्षेत्र में बिलराम गेट चौराहे पर विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) और एबीवीपी के कार्यकर्ता बाइक से तिरंगा रैली निकाल रहे थे. इस दौरान नारेबाजी को लेकर एक समुदाय विशेष के लोगों से बहस हो गई. तकरार में दोनों तरफ से फायरिंग, पत्थरबाजी हुई, जिसमें तिरंगा यात्रा में शामिल एक युवक चंदन गुप्ता की गोली लगने से मौत हो गई थी. दूसरे पक्ष के भी एक शख्स को गोली लगी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi