S M L

कासगंज हिंसा: मृतक चंदन के घर वालों को मिली जान से मारने की धमकी

मुख्य आरोपी के पकड़े जाने के बाद मृतक चंदन गुप्ता के परिवार वालों को जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं

Updated On: Feb 02, 2018 12:27 PM IST

FP Staff

0
कासगंज हिंसा: मृतक चंदन के घर वालों को मिली जान से मारने की धमकी

कासगंज हिंसा के दौरान हुए चंदन गुप्ता हत्याकांड में फरार चल रहे मुख्य आरोपी सलीम को पुलिस ने बुधवार को गिरफ्तार कर लिया था. वहीं अब मुख्य आरोपी के पकड़े जाने के बाद मृतक चंदन गुप्ता के परिवार वालों को जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं. चंदन के पिता सुशील गुप्‍ता ने बताया है कि वह सुबह घर के बाहर बैठे थे तभी कुछ युवक बाइक से आए और उन्‍होंने कहा कि भले ही हमारे साथी जेल में हों. लेकिन हम अब भी बाहर हैं. हमारे साथ दुश्‍मनी मत करो.

उन्होंने आगे बताया कि उनका और उनकी बेटी का जीवन खतरे में है. उन्‍होंने योगी सरकार से हथियार का लाइसेंस देने को कहा है ताकी वह सुरक्षित रह सकें. मामले को गंभीरता से लेते हुए चंदन के घर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सख्ती के बाद पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए सलीम को गिरफ्तार किया है.

चंदन गुप्ता की हत्या के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार करने से पहले पुलिस ने हत्याकांड में संलिप्त आरोपियों की लिस्ट भी जारी की थी. इस लिस्ट में सलीम, वसीम और नसीम मुख्य आरोपी हैं. इनके अलावा भी कई लोगों को पुलिस ने दोषी बताया है. पुलिस की लिस्ट में असलम, असीम, नसरुद्दीन, आकरम, तौफीक, खिल्लन, शबाब, राहत, सलमान, मोहसिन, साकिब, बब्लू, नीशू और वासिफ को भी आरोपी बताया है.

कासगंज में भड़की हिंसा के मामले में करीब 117 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. जिसमें से 36 लोगों को हिंसा में दर्ज पांच एफआईआर के तहत गिरफ्तार किया गया है. जबकि 81 लोगों को धारा 144 के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार किया है. साथ ही कासगंज में हिंसा के दौरान आगजनी की सात एफआईआर भी दर्ज की गई हैं.

गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस के दिन तिरंगा यात्रा के दौरान कासगंज में भड़की हिंसा में मारे गए चंदन गुप्ता मामले में पुलिस ने नामजद आरोपियों की लिस्ट जारी की है. अब तक इस मामले में 117 लोगों को गिरफ्तार किया गया हैं. हिंसा में दर्ज 5 एफआईआर के तहत 36 लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जबकि 81 लोगों को धारा-144 के उल्लंघन के आरोप में अरेस्ट किया गया है. कासगंज हिंसा के दौरान शहर में आगजनी की 7 एफआईआर भी दर्ज की गई हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi