S M L

सिख श्रद्धालुओं को तोहफा, करतारपुर कॉरिडोर को मिली मंजूरी

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर, गुरदासपुर जिले के डेरा बाबा से लेकर अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर तक बनेगा. इसमें श्रद्धालुओं के लिए सभी तरह की आधुनिक सुविधाएं होंगी

Updated On: Nov 22, 2018 03:09 PM IST

FP Staff

0
सिख श्रद्धालुओं को तोहफा, करतारपुर कॉरिडोर को मिली मंजूरी

मोदी सरकार ने सिखों के लिए करतारपुर कॉरिडोर के निर्माण को मंजूरी दे दी है. इस फैसले के तहत पंजाब के गुरदासपुर जिले में स्थित डेरा बाबा नानक से इंटरनेशनल बॉर्डर तक श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर का निर्माण किया जाएगा.

केंद्र सरकार की तरफ से यह फैसला गुरु नानक जयंती से एक दिन पहले लिया गया है. गृह मंत्री राजनाथ सिह ने बताया कि, करतारपुर कॉरिडोर गुरदास जिले के डेरा बाबा से लेकर अंतर्राष्ट्रीय बॉर्डर तक बनेगा. इसमें श्रद्धालुओं के लिए सभी तरह की आधुनिक सुविधाएं होंगी.

दूसरी तरफ कैबिनेट की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'गुरु नानक देव ने करतारपुर साहब में 18 साल बिताए. कैबिनेट ने फैसला किया है कि डेरा बाबा नानक जो गुरुदासपुर में हैं, वहां से लेकर इंटरनेशनल बॉर्डर तक करतारपुर कॉरिडोर बनाया जाएगा.' उन्होंने कहा कि ये बहुत बड़े धार्मिक स्थल की तरह होगा.

सरकार के इस तोहफे से भारतीय तीर्थ यात्रियों को पाकिस्तान में रावी नदी के तट पर करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने की सुविधा मिल सकेगी. इससे भारतीय तीर्थ यात्री पूरे साल गुरुद्वारे की यात्रा कर सकेंगे.

दूरबीन के जरिए भी पाकिस्तान में करतारपुर साहिब के दर्शन कर सकेंगे श्रद्धालु

इससे पहले सरकार ने भारत और पाकिस्तान से लगती सरहद पर एक हाई पावर दूरबीन लगाने की बात कहा थी ताकि सिख श्रद्धालु करतारपुर साहिब को देख सकें. यह सिखों के सर्वाधिक पवित्र धर्मस्थलों में से एक है. सरकार ने सोमवार को ऐलान किया था कि गुरु नानक देव की 550वीं जयंती मनाने के लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा. जिसके तहत उनकी याद में एक सिक्का और एक डाक टिकट जारी किया जाएगा.

गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रोद्यौगिकी मंत्रालय पाकिस्तान में स्थित करतारपुर साहिब को देखने के लिए श्रद्धालुओं के लिए एक हाई पावर दूरबीन लगाएगा. जबकि रेल मंत्रालय एक ट्रेन चलाएगा जो सिख गुरु से संबंधित स्थानों से गुजरेगी. करतारपुर साहिब में गुरु नानक ने अपना अंतिम समय बिताया था.

सिद्धू के बयान के बाद चर्चा में आया था मामला

कुछ समय पहले करतारपुर साहिब का मुद्दा तब चर्चा में आ था जब पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने दावा किया था कि पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने उनसे कहा है कि पाकिस्तान करतारपुर साहिब गालियारा खोल सकता है जो पंजाब में अंतर्राष्ट्रीय सीमा के ठीक उस पार स्थित है.

सिद्धू अपने दोस्त क्रिकेटर से सियासत में आए इमरान खान के प्रधानमंत्री पद पर शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए अगस्त में पाकिस्तान गए थे और वतन लौटने पर उन्होंने उक्त दावा किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi