S M L

कर्नाटक में जारी भारी बारिश, रेस्क्यू ऑपरेशन हुआ तेज

कोडागू में सभी 41 राहत शिविरों के लिए भोजन और बुनियादी सुविधाओं की व्यवस्था की गई है

Updated On: Aug 20, 2018 02:00 PM IST

Bhasha

0
कर्नाटक में जारी भारी बारिश, रेस्क्यू ऑपरेशन हुआ तेज

कर्नाटक के कोडागू जिले में रविवार तक 3,500 से अधिक लोगों को बचाया जा चुका है. वहां पिछले कुछ दिनों में भारी वर्षा के बाद आई बाढ़ और भूस्खलन की घटनाओं में छह लोगों की मौत हो चुकी है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन पर राज्य के मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी से बातचीत की और वहां के हालात के बारे में पूछताछ की. कुमारस्वामी बारिश प्रभावित इस जिले में डेरा डाले हुए हैं.

मुख्यमंत्री कार्यालय ने बताया कि मोदी ने इस स्थिति का सामना करने में राज्य को पूरी सहायता देने का आश्वासन दिया.

प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में कहा, ‘बचाव और राहत अभियानों में हरसंभव मदद दी. मैं बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लोगों की सुरक्षा और खैरियत की कामना करता हूं.’

अधिकारियों ने बताया कि दो महीने के एक शिशु समेत 317 लोगों को शनिवार को बचाया गया और राहत केंद्रों में भेजा गया है. उन्होंने कहा कि मक्कनडुरू और अन्य प्रभावित क्षेत्रों के आस-पास रविवार को बचाव अभियान चलाया गया.

41 केंद्रों में पहुंचाई जा रही है मदद

सभी 41 राहत शिविरों के लिए भोजन और बुनियादी सुविधाओं की व्यवस्था की गई है.  कर्नाटक के कोडागू की डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि अलग-अलग जगहों से अब तक 181 लोगों को बचाया जा चुका है. पीड़ितों के लिए 41 राहत शिविर खोले गए हैं. हम लगातार पीड़ितों को मेडिकल और अन्य सुविधाएं पहुंचा रहे हैं.

सशस्त्र बलों, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल, नागरिक रक्षा बल, दमकल और आपात सेवा के तकरीबन 1000 कर्मियों को 15 अगस्त से बचाव कार्य में लगाया गया है.

तटीय और मलनाड क्षेत्र के कुछ जिलों और खासतौर पर चिकमंगलुरू जिले से भी बाढ़ और भूस्खलन की खबरें मिली हैं. इससे सड़क संपर्क प्रभावित हुआ है.

तटीय और मलनाड क्षेत्र के कई जिले, दक्षिण कन्नड़, उडुपी, चिकमंगलुरू, कोडागू, हासन और उत्तर कन्नड़ जिले के कुछ हिस्से पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश से प्रभावित हैं।

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi