S M L

बेंगलुरु: मारपीट के आरोपी कांग्रेस MLA के बेटे ने किया सरेंडर

मोहम्मद हारिस और उसके दोस्तों पर बेंगलुरु के एक रेस्तरां में एक व्यक्ति को कथित रूप से पीटने का मामला दर्ज है

Updated On: Feb 19, 2018 02:59 PM IST

FP Staff

0
बेंगलुरु: मारपीट के आरोपी कांग्रेस MLA के बेटे ने किया सरेंडर

एक युवक से मारपीट के आरोप में दर्ज मामले में कर्नाटक में कांग्रेस के विधायक एन.ए. हारिस के बेटे मोहम्मद हारिस नलपद ने सोमवार को सरेंडर कर दिया है. मोहम्मद हारिस और उसके दोस्तों पर बेंगलुरु के एक रेस्तरां में एक व्यक्ति को कथित रूप से पीटने का मामला दर्ज है. इसके बाद कांग्रेस ने उसे पार्टी से छह साल के लिए निकाल दिया था.

बेंगलुरु के एक मशहूर रेस्टोरेंट में एक युवक पर कथित रूप से हमला करने के मामले में कांग्रेस विधायक एन ए हारिस के बेटे और उनके समर्थकों के खिलाफ रविवार को केस दर्ज किया गया था. इस हमले में गंभीर रूप से घायल युवक को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया.

विपक्षी बीजेपी और जेडीएस के इस मुद्दे पर हंगामे के बाद विधायक के बेटे मोहम्मद नलपद को कांग्रेस से 6 साल के लिए निलंबित कर दिया गया था. घायल युवक की पहचान डॉलर्स कॉलोनी के रहने वाले विद्वत के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि विद्वत डिनर खाने रेस्टोरेंट गया हुआ था. शनिवार रात साढ़े 11 बजे मोहम्मद नलपद अपने दोस्तों के साथ वहां पहुंचा. प्राप्त जानकारी के मुताबिक, नलपद ने उसे ठीक से बैठने को कहा. विद्वत के एक पैर में प्लास्टर लगा था और जब उसने इस पर एतराज जताया तो दोनों के बीच कहा-सुनी होने लगी.

पहले रेस्टोरेंट में मारा-पीटा फिर अस्पताल में भी घुसकर पीटने का आरोप

यह नोंकझोक इतनी बढ़ी कि नलपद और उसके साथियों ने कथित रूप से विद्वत पर हमला कर उसे बुरी तरह से मारा-पीटा. विद्वत को घायल हालत में पास के माल्या अस्पताल ले जाया गया. आरोपी नलपद का गुस्सा इतने पर भी शांत नहीं हुआ और उसने कथित रूप से अस्पताल में भी घुसकर उसकी पिटाई की. इस दौरान बीच-बचाव की कोशिश कर रहे विद्वत के भाई को भी नलपद और उसके साथियों ने कथित रूप से पीट दिया.

हमले में घायल विद्वत का माल्या अस्पताल में इलाज चल रहा है. मामला सामने आने के बाद कांग्रेस विधायक हारिस ने देर रात अस्पताल पहुंचकर विद्वत का हाल-चाल लिया था. उन्होंने कहा था कि हमले में जो भी शामिल है उस पर कार्रवाई होगी, चाहे वह विधायक का ही बेटा क्यों न हो.

इस घटना के बाद बीजेपी ने कांग्रेस विधायक एन ए हारिस पर मामले पर पर्दा डालने की कोशिश का आरोप लगाते हुए उन्हें तत्काल सस्पेंड करने की मांग की थी. मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक, सरेंडर के बाद बीजेपी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच भिड़ंत भी हुई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi