S M L

कर्नाटक: कांग्रेस विधायकों में हाथापाई के बाद हत्या की कोशिश का मामला दर्ज

सिंह और गणेश दोनों ही बेल्लारी जिले से हैं. दोनों के बीच काफी गर्मागर्म झड़प हो गई थी.

Updated On: Jan 21, 2019 09:23 PM IST

Bhasha

0
कर्नाटक: कांग्रेस विधायकों में हाथापाई के बाद हत्या की कोशिश का मामला दर्ज

कांग्रेस विधायक जे एन गणेश के खिलाफ बेंगलुरू एक रिजॉर्ट में अपने साथी विधायक आनंद सिंह के साथ कथित झगड़े को लेकर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है. शनिवार की देर रात हुए इस झगड़े में आनंद सिंह घायल हो गए थे और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा था. सिंह की शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया.

सिंह और गणेश दोनों ही बेल्लारी जिले से हैं. दोनों के बीच काफी गर्मागर्म झड़प हो गई थी. ये दोनों उस रिजार्ट में ठहरे हुए थे, जहां कांग्रेस के विधायकों को बीजेपी के खरीद फरोख्त के कथित प्रयासों से बचाने के लिए ठहराया गया था. सिंह को जिस निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, उसके सूत्रों ने बताया था कि सिंह की 'एक आंख काली पड़ गई थी और उन्हें तेज चोटें आई थीं.'

वहीं कांग्रेस नेताओं ने घटना के संबंध में विरोधाभासी बयान दिए थे. कांग्रेस नेता और कर्नाटक सरकार में वरिष्ठ मंत्री डीके शिवकुमार ने इन खबरों को खारिज किया था कि आनंद सिंह पर हमला हुआ. उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस के सारे विधायक एकजुट हैं. शिवकुमार ने कहा, 'किसी ने गुमराह किया है. कोई हमला नहीं हुआ. (सिंह के सिर पर) बोतल मारने की कोई घटना नहीं हुई. यह फर्जी खबर है. हर कोई साथ है. पूरी कांग्रेस एकजुट है.'

असंतुष्ट विधायक

कांग्रेस प्रवक्ता और निजामाबाद के पूर्व सांसद मधु गौड़ याक्षी ने बताया, 'यह निजी मामला था, जिले से जुड़ा था. वे कारोबार में एक साथ हैं. इस झड़प का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है.' रिपोर्ट्स के मुताबिक गणेश कांग्रेस के उन ‘असंतुष्ट’ विधायकों में शामिल बताए जाते हैं जो कथित तौर पर बीजेपी में शामिल होने की योजना बना रहे पार्टी के असंतुष्ट विधायकों के संपर्क में हैं.

एफआईआर के मुताबिक, हत्या की कोशिश के अलावा गणेश पर गंभीर रूप से घायल करने और धमकी देने का भी आरोप लगाया गया है. सिंह ने आरोप लगाया है कि रात जब वह खाना खाने के बाद अपने कमरे की ओर जा रहे थे तो गणेश ने उनका रास्ता रोक लिया. प्राथमिकी के मुताबिक, सिंह ने अपनी शिकायत में कहा है कि गणेश विधानसभा चुनाव के दौरान वित्तीय सहायता नहीं किए जाने को लेकर उनसे नाराज था.

गणेश ने आरोप लगाया कि सिंह के भतीजे संदीप ने उन्हें राजनीतिक रूप से खत्म करने की धमकी दी थी. इतना कहने के बाद दोनों के बीच में झगड़ा शुरू हो गया. इसके बाद गणेश ने कथित रूप से सिंह पर डंडे से वार किया. गणेश ने सिंह के सिर को दीवार में दे मारा और जब सिंह जमीन पर गिर गए तो उनके पेट में लातें मारी गईं. सिंह ने अपनी शिकायत में यह भी कहा है कि इसके बाद उसने उन्हें खत्म करने के लिए रिवॉल्वर मांगी.

सिंह ने अपनी शिकायत में आगे कहा है कि उनके और उनके परिवार के सदस्यों की जान खतरे में है. इसके साथ ही उन्होंने पुलिस सुरक्षा के साथ ही आरोपी के खिलाफ उचित कार्रवाई की भी मांग की है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi