S M L

कन्नड़ लेखक ने कहा- भगवान नहीं थे राम, इंसानों की तरह थे कमजोरियों के शिकार

कन्नड़ लेखक केएस भागवत ने इस विषय पर किताब लिखी है कि राम मंदिर क्यों नहीं बनना चाहिए, उसी किताब में उन्होंने ये बात लिखी है

Updated On: Jan 02, 2019 09:24 AM IST

FP Staff

0
कन्नड़ लेखक ने कहा- भगवान नहीं थे राम, इंसानों की तरह थे कमजोरियों के शिकार

कर्नाटक के लेखक के. एस. भगवान के खिलाफ भगवान राम का अपमान करने के आरोप में केस दर्ज किया गया है. उनपर अपनी किताब में भगवान राम और महात्मा गांधी का कथित तौर पर अपमान करने का आरोप है.

पुलिस के एक अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि भगवान के खिलाफ आईपीसी की धारा 295ए (जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण काम, जिसका उद्देश्य किसी भी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को या धार्मिक विश्वासों का अपमान करना है) के तहत मामला दर्ज किया गया है.

कन्नड़ भाषा में लिखी इस किताब 'रामा मंदिरा येके बेडा' में दावा किया गया है कि राम कोई भगवान नहीं थे और वह दूसरे इंसानों की ही तरह कमजोरियों के शिकार थे.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि हिंदू जागरण वेदिके मैसुरु के जिला अध्यक्ष के जगदीश हेब्बार ने भगवान राम और गांधी का अपनी किताब में कथित तौर पर अपमानजक जिक्र करने के लिए लेखक भगवान के खिलाफ शनिवार को शिकायत दर्ज कराई थी.

न्यूज18 की रिपोर्ट के मुताबिक, शुक्रवार को हिंदूवादी संगठनों भगवान के खिलाफ उनकी किताब में भगवान राम की गलत छवि दिखाने और अपमानजक बातें लिखने का आरोप लगाकर उनके घर के बाहर प्रदर्शन किया था और उनके गिरफ्तारी की मांग की थी.

हालांकि, भगवान ने अपने किताब का ये कहकर बचाव किया है कि ये वाल्मिकी की रामायण से प्रेरित है.

कर्नाटक बीजेपी ने भी लेखक के जरिए सीएम एचडी कुमारास्वामी के मुद्दे पर चुप रहने को लेकर हमला बोला है.

बीजेपी के सीनियर लीडर और विधायक सुरेश कुमार ने एक फेसबुक पोस्ट लिखकर कहा कि या तो भगवान को जेल भेजा जाए या मेंटल हॉस्पिटल.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi