S M L

कर्नाटक: मंदिर में प्रसाद खाकर 12 लोगों की मौत मामले में 2 गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक बीमार 90 लोगों में से 12 की हालत काफी गंभीर है और उन्हें इलाज के लिए मैसूर भेजा गया है

Updated On: Dec 15, 2018 12:41 PM IST

FP Staff

0
कर्नाटक: मंदिर में प्रसाद खाकर 12 लोगों की मौत मामले में 2 गिरफ्तार

कर्नाटक के चामराजनगर जिले के सुलिवादी गांव में एक मंदिर में प्रसाद खाने से दो बच्चों समेत 12 लोगों की मौत हो गई और करीब 90 से ज्यादा लोग बीमार हो गए है जिनका अस्पताल में इलाज चल रहा है. एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में अब तक 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. राज्य सरकार में कैबिनेट मंत्री पुत्तरंगा शेट्टी ने इस बात की जानकारी दी.

प्रसाद के नमूने इकट्ठे कर जांच के लिए प्रयोगशाला भेज दिए हैं

पुलिस ने जानकारी दी है कि 12 अन्य लोगों की हालत काफी गंभीर है और उन्हें इलाज के लिए मैसूर भेजा गया है. जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि इस बात का संदेह है कि प्रसाद के साथ जहर मिल गया हो, जिसकी वजह से यह दर्दनाक हादसा हुआ. उन्होंने बताया, हमने प्रसाद के नमूने इकट्ठे कर जांच के लिए प्रयोगशाला भेज दिए हैं.

मरम्मा मंदिर की आधारशिला रखे जाने के मौके पर प्रसाद बांटा गया था

पुलिस के मुताबिक बीते गुरुवार की सुबह मरम्मा मंदिर की आधारशिला रखे जाने के मौके पर प्रसाद बांटा गया था. पुलिस ने कहा कि प्रसाद खाने के बाद लोगों को उल्टी होने के साथ पेट में दर्द होने लगा. घटना के बाद आनन-फानन में लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया. इसके बाद पुलिस और जिले के आला अधिकारी भी घटनास्थल पर पहुंचे. इलाज के दौरान सबसे पहले 5 लोगों ने दम तोड़ दिया. 6 लोगों की बाद में मौत हो गई.

मुख्यमंत्री ने 5 लाख के मुआवजे का ऐलान किया है

हादसे पर दुख जताते हुए मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने अधिकारियों को पीड़ितों के इलाज के लिए सभी इंतजाम करने को कहा है. मुख्यमंत्री ने 5 लाख के मुआवजे का ऐलान किया है. कुछ पीड़ितों का कहना है कि प्रसाद में मिट्टी के तेल की गंध आ रही थी जिसे उन्होंने नजरअंदाज कर दिया था. मंदिर में मौजूद एक भक्त ने कहा कि उन्हें टमाटर चावल और स्वादयुक्त पानी पेश किया जा रहा था. प्रसाद खाने के बाद कई कौवे भी मरे हुए पाए गए.

पुलिस 5 और संदिग्धों की तलाश कर रही है

सूत्रों ने बताया कि इस मामले में चामराजनगर पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार किए गए दोनों लोग मंदिर प्रशासन के प्रभारी हैं. पुलिस 5 और संदिग्धों की तलाश कर रही है. चमारजनगर के प्रभारी मंत्री पुतरारांगा शेट्टी ने अस्पताल का दौरा किया जहां लोगों का इलाज चल रहा है. उन्होंने कहा कि दो समूहों के बीच एक विवाद खाने में जहर देने का कारण हो सकता है.

दो समूहों के बीच कुछ विवाद था

उन्होंने कहा- अपराधी जो भी हो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. पुलिस मामले की जांच कर रही है और पहले ही दो लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. दो समूहों के बीच कुछ विवाद था. मुझे लगता है कि कुछ हुआ है. उन्होंने कहा कि मरीजों का उल्टी, दस्त और सांस लेने में परेशानी होने का इलाज किया जा रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi