विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

करगिल विजय दिवस: जरा याद करो कुर्बानी...

18 साल पहले 1999 में इसी दिन भारतीय सेना ने करगिल में फिर से तिरंगा लहराया था

FP Staff Updated On: Jul 26, 2017 09:25 AM IST

0
करगिल विजय दिवस: जरा याद करो कुर्बानी...

26 जुलाई को करगिल विजय दिवस मनाया जा रहा है. 18 साल पहले 1999 में इसी दिन भारतीय सेना ने करगिल में फिर से तिरंगा लहराया था.

साल 1999 में करगिल की पहाड़ियों पर पाकिस्तानी घुसपैठियों ने कब्जा जमा लिया था. जब सेना को पता चला तो सेना ने उनके खिलाफ ऑपरेशन विजय चलाया. 8 मई को शुरू हुआ यह ऑपरेशन 26 जुलाई को खत्म हुआ.

भारत के 527 जवान शहीद

ऑपरेशन विजय के दौरान में भारतीय सेना के 527 जवान शहीद हुए और करीब 1363 घायल हुए. पाकिस्तान का दावा है कि युद्ध में उसके करीब 357 सैनिक मारे गए थे. हालांकि असलियत में पाकिस्तान के करीब तीन हजार जवान मारे गए थे.

करगिल युद्ध का घटनाक्रम

- 1998-1999 की सर्दियों में पाकिस्तानी सेना के लोग नियंत्रण रेखा (एलओसी) के इस ओर घुस गए.

- 3 मई 1999 को एक बकरी चराने वाले ने भारतीय फ़ौज इस बात की जानकारी दी.

- 5 मई को जब भारतीय सेना की पेट्रोलिंग पार्टी जानकारी लेने वहां पहुंची तो पाकिस्तानियों ने उन्हें पकड़ लिया और उनमें से 5 की हत्या कर दी.

- 10 मई को पहली बार द्रास, काकसार और मुश्कोह सेक्टर में पाकिस्तानी घुसपैठियों की उपस्थिति देखी गई. शुरू में भारतीय सेना को लगा कि ये जिहादी घुसपैठिए हैं लेकिन बाद में जाहिर हो गया कि यह पाकिस्तानी सेना है.

- मई के मध्य में भारतीय सेना को कश्मीर घाटी से कारगिल सेक्टर के तरफ भेजा गया.

- 26 मई से भारतीय वायु सेना को कार्रवाई में शामिल होने को कहा गया.

- 27 मई को भारतीय वायु सेना के MiG-21 और MiG-27 मार गिराए गए और फ्लाइट लेफ्टिनेंट नचिकेता को बंदी बना लिया गया.

- 9 जून को बाल्टिक क्षेत्र की 2 अग्रिम चौकियों पर भारतीय सेना ने फिर से कब्जा कर लिया.

- 13 जून को भारतीय फौज ने द्रास सेक्टर में तोलोलिंग पर कब्जा किया.

- 29 जून को भारतीय सेना ने टाइगर हिल के नजदीक दो अहम चौकियों पॉइंट 5060 और पॉइंट 5100 को नियंत्रण किया.

- 4 जुलाई को ने 11 घंटों के अटैक के बाद टाइगर हिल पर फिर से तिरंगा लहराया.

- 5 जुलाई भारत ने द्रास सेक्टर पर फिर से कब्जा किया. पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अमेरिका से कहा कि वह करगिल से सेना पीछे कर रहे हैं.

- इसके बाद पाकिस्तानी फौज ने करगिल से भागना शुरू किया.

- 14 जुलाई को भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने ऑपरेशन विजय की सफलता की घोषणा की.

- औपचारिक रूप से करगिल युद्ध समाप्त हुआ और 26 जुलाई को विजय दिवस के रूप में मनाये जाने का ऐलान किया गया.

अमर जवान ज्योति जाएंगे जेटली

इस बार दिल्ली में इंडिया गेट पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली की अगुवाई में सेना के तीनों अंगो के प्रमुख करगिल जंग में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देंगे. करगिल के द्रास में सेना के उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अनबू के साथ शहीद हुए जवानों के परिवारवाले श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे.

पीएम ने किया याद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करिगल विजय दिवस के मौके पर जवानों को याद किया है जिन्होंने हमारी सुरक्षा और देश के गौरव के लिए बहादुरी से संघर्ष किया. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि करगिल विजय दिवस हमें भारत की सैन्य ताकत और सैनिकों के बलिदान की याद दिलाता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi