S M L

दोबारा होगी मंदसौर गोलीकांड मामले की जांच, कमलनाथ सरकार ने किया ऐलान

गृह मंत्री ने कांग्रेस सरकार के उस ऐलान को भी दोहराया जिसमें कहा गया कि भारत बंद के दौरान 2 अप्रैल 2018 को हुई हिंसा के मामले में फंसे निर्दोषों के केस वापिस लिए जाएंगे

Updated On: Jan 03, 2019 01:08 PM IST

FP Staff

0
दोबारा होगी मंदसौर गोलीकांड मामले की जांच, कमलनाथ सरकार ने किया ऐलान

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री बाला बच्चन ने कहा कि मंदसौर गोलीकांड की दोबारा जांच होगी. उन्होंने कहा है कि पेलटावद और बालाघाट विस्फोट की भी दोबारा जांच कराई जाएगी. गृह मंत्री ने कांग्रेस सरकार के उस ऐलान को भी दोहराया जिसमें कहा गया कि भारत बंद के दौरान 2 अप्रैल 2018 को हुई हिंसा के मामले में फंसे निर्दोषों के केस वापिस लिए जाएंगे.

बता दें कि मंदसौर में मध्य प्रदेश का बहुचर्चित गोलीकांड हुआ था. 6 जून 2017 को मंदसौर में हुए किसानों के हिंसक प्रदर्शन में शिवराज सरकार बैकफुट पर आ गई थी. आंदोलन में किसान इतने हिंसक हो गए थे कि सरकार को कुछ समझ नहीं आ रहा था कि क्या किया जाए. आंदोलन में करीब 6 लोगों की जान चली गई थी. हिंसा के बाद बिगड़े हालात के बाद प्रदेश में शांति स्थापित करने के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उपवास किया था. आंदोलन के बाद पूरे देश में खूब हंगामा मचा था.

मध्य प्रदेश सरकार ने आंदोलन की जांच के लिए जैन आयोग का गठन किया था और एक साल बाद भी ये नहीं पता कि किसानों पर गोली किसने चलाई. न्यायिक आयोग को पता करना था कि पुलिस फायरिंग सही थी या नहीं. यदि नहीं तो फिर फायरिंग के लिए गुनहगार कौन है. इसके बाद जैन आयोग का कार्यकाल बढ़ता रहा. अंततः जैन आयोग ने अपनी रिपोर्ट सौंपी और इसमें सीआरपीएफ के जवानों को क्लीन चिट दे दी गई थी. हालांकि कमलनाथ सरकार अब मंदसौर गोलीकांड की दोबारा जांच करवाना चाहती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi