विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

कैफियत एक्‍सप्रेस का एक्‍सीडेंट हुआ फिर 'राइट टाइम' कैसे!

जब ट्रेन का एक्‍सीडेंट हो गया है तो फिर वेबसाइट पर इसके शेड्यूल में नो डिले और राइट टाइम क्‍यों दिख रहा है?

FP Staff Updated On: Aug 23, 2017 06:31 PM IST

0
कैफियत एक्‍सप्रेस का एक्‍सीडेंट हुआ फिर 'राइट टाइम' कैसे!

आजमगढ़ से दिल्‍ली आ रही कैफियत एक्सप्रेस औरैया जिले के अछल्दा के पास हादसे का शिकार हो गई. लेकिन रेलवे अपनी वेबसाइट पर ट्रेन का राइट टाइम दिखा रही है.

जब ट्रेन का एक्‍सीडेंट हो गया है तो फिर वेबसाइट पर इसके शेड्यूल में नो डिले और राइट टाइम क्‍यों दिख रहा है? रेलवे की लापरवाही का यह भी एक नमूना है. यहां प्रधानमंत्री की डिजिटल इंडिया मुहिम को अधिकारी और कर्मचारी कितनी गंभीरता से लेते हैं, इस गड़बड़ी से पता चलता है.

साइट पर तो यह गलती चल ही रही है. कुछ जानकारों का कहना है कि दिल्‍ली स्‍टेशन के बोर्ड पर भी इसे राइट टाइम दिखाया गया है. इस ट्रेन के एक्‍सीडेंट के बाद हमने सुबह रेलइंक्‍वायरीडॉटइन पर इसका स्‍टेटस देखा तो उसमें सभी जगहों पर नो डिले दिखाया जा रहा था. यह स्‍थिति सुबह 9:30 बजे तक की है. इस ट्रेन को सुबह 7:05 बजे दिल्‍ली पहुंचना होता है.

इसके बाद हमने नेशनल ट्रेन इंक्‍वायरी सिस्‍टम पर देखा तो उसमें भी इस ट्रेन के दिल्‍ली में पहुंचने को राइट टाइम दिखाया जा रहा है. जबकि इसी साइट पर दूसरी जगह वेटिंग फॉर अपडेट लिखा हुआ है. हालांकि इसमें अंतिम अपडेट रात 2:38 बजे का दिखाया जा रहा है जिसके मुताबिक ट्रेन पाटा स्टेशन से निकल चुकी है और दिल्ली पहुंचने में इसे 350 किलोमीटर का सफर और करना है.

train-6

रेलवे चलाने में टाइम का अहम रोल होता है. लेकिन कभी रेलवे टाइम पर नहीं रही. यहां तक कि दुर्घटनाओं के बाद भी रेलवे का वही पुराना रवैया है.

मालूम हो कि जिस रूट पर यह हादसा हुआ है उसके बगल में ही डेडिकेटेड हाईस्पीड कॉरिडोर पर काम चल रहा था.

 

एक डंपर इसी कॉरिडोर के लिए मिट्टी लेकर पहुंचा था और ट्रैक पर पलट गया. जिसके बाद फुल स्पीड में आ रही कैफियत एक्सप्रेस की इससे टक्कर हो गई. इस हादसे में 78 यात्री घायल हुए हैं.

train-3-1

(न्यूज़ 18 से ओम प्रकाश की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi