S M L

ट्रेंड बन गया है जजों पर निशाना साधना, इससे सख्ती से निपटा जाए: SC

सुप्रीम कोर्ट ने जजों पर निशाना साधने की बढती परंपरा को लेकर नाराजगी जताई और कहा कि यह बंद होना चाहिए

Updated On: Aug 21, 2018 12:56 PM IST

Bhasha

0
ट्रेंड बन गया है जजों पर निशाना साधना, इससे सख्ती से निपटा जाए: SC

सुप्रीम कोर्ट ने जजों पर निशाना साधने की बढती परंपरा को लेकर नाराजगी जताई और कहा कि यह बंद होना चाहिए. कोर्ट ने कहा है कि जजों पर निशाना साधना आज कल ट्रेंड बन गया है और इससे सख्ती से निपटा जाना चाहिए. सुप्रीम कोर्ट ने साथ ही संकेत दिए कि चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ हितों के टकराव का मुद्दा उठाने वाले एक संगठन पर 25 लाख रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है.

परमार्थ संगठन ‘भारतीय मतदाता संगठन’ ने अपनी याचिका में आरोप लगाया कि संवैधानिक नैतिकता के बावजूद, सीजेआई के एक रिश्तेदार जो कि ओडिशा से सांसद हैं, यहां अदालतों और न्यायाधिकरणों में एक वरिष्ठ वकील के रूप में वकालत कर रहे हैं. सीजेआई, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने नौ जुलाई को बीजेपी नेता अश्विनी उपाध्याय द्वारा दायर जनहित याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रखा.

इस याचिका में सांसदों-विधायकों के वकील के रूप में वकालत करने पर प्रतिबंध की मांग की गई थी. जनहित याचिका पर संगठन द्वारा दायर अंतरिम याचिका पर कड़ा संज्ञान लेते हुए पीठ ने कहा, 'जजों पर निशाना साधना परंपरा बन गई है. यह परंपरा रुकनी चाहिए. अगर आपको आरोप लगाने हैं तो कृपया शुरूआत में लगाइए ताकि हम उनसे निपट सकें.' इस जनहित याचिका पर फैसला पहले से ही सुरक्षित रख दिया गया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi