S M L

46 साल बाद 8 अगस्त को दूसरी बार होगा JNU में दीक्षांत समारोह

जेएनयू में एक बार के बाद दोबारा दीक्षांत समारोह ना होने के पीछे अलग-अलग कहानियां प्रचलित हैं

Updated On: Jul 07, 2018 03:59 PM IST

FP Staff

0
46 साल बाद 8 अगस्त को दूसरी बार होगा JNU में दीक्षांत समारोह

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में 46 साल बाद एक बार फिर से दीक्षांत समारोह का आयोजन होने वाला है. दरअसल जेएनयू की स्थापना से लेकर अब तक सिर्फ एक ही बार ऐसा हुआ है, जब समारोह का आयोजन कर छात्रों को डिग्रियां बांटी गई हो.

1972 में पहली बार बॉलीवुड अभिनेता बलराज साहनी द्वारा छात्रों को डिग्रियां बांटी गई थी. इसके बाद अब आठ अगस्त को एक बार फिर से जेएनयू में दीक्षांत समारोह का आयोजन होगा. यह जेएनयू के इतिहास में दूसरी बार होगा जब पीएचडी के छात्रों को दीक्षांत समारोह आयोजित कर डिग्री दी जाएगी. हालांकि इस समारोह की अध्यक्षता कौन करेगा यह स्पष्ट नहीं हुआ है.

जेएनयू में समारोह ना होने के पीछे अलग-अलग कहानियां प्रचलित हैं. कुछ लोगों का मानना है कि जब पिछली बार दीक्षांत समारोह में बलराज साहनी को बुलाया गया था. तब उन्होंने अपने भाषण में सरकार के खिलाफ जम कर आग उगली थी. इस भाषण के कारण उस समय काफी विवाद पैदा हो गया था. शायद इसलिए उसके बाद कभी इस समारोह का आयोजन नहीं कराया गया.

वहीं जेएनयू के कई छात्रों का कहना है कि शिक्षा का कभी अंत नहीं होता. और इसी लिए दीक्षांत समारोह का हम विरोध करते हैं. हालांकि कई सालों बाद आयोजन होने के चलते कई छात्र इस समारोह का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

हाल ही में मानव संसाधन मंत्रालय ने सभी केंद्रीय विश्वविद्यालयों को यह निर्देश दिया था कि वे सालान दीक्षांत समारोह का आयोजन करें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi