S M L

जेएनयू के एक कर्मचारी के नाम गिनीज बुक में दर्ज हैं चार अनोखे रिकॉर्ड

उन्होंने कहा, 'मुझे गति में हमेशा से रुचि थी, मैं एक एथलीट बनना चाहता था'

Bhasha Updated On: Jul 15, 2018 04:05 PM IST

0
जेएनयू के एक कर्मचारी के नाम गिनीज बुक में दर्ज हैं चार अनोखे रिकॉर्ड

जवाहरलाल नेहरू विश्विद्यालय शिक्षा में अपने योगदान के लिए दुनिया भर में जाना जाता है.  शिक्षा के क्षेत्र में यहां के छात्र कई रिकॉर्ड्स बना चुकें हैं. लेकिन रिकॉर्ड बनाने के मामले में जेएनयू के कर्मचारी भी पीछे नहीं हैं. दरअसल जेएनयू के एक कर्मचारी के नाम गिनीज बुक में चार रिकॉर्ड दर्ज हैं.

जेएनयू के कर्मचारी विनोद कुमार केवल लेखा विभाग में अंकों का हिसाब ही नहीं रखते बल्कि टाइपिंग कौशल के लिए ‘गिनीज बुक रिकॉर्ड्स’ में उनके नाम चार रिकॉर्ड दर्ज हैं. इन रिकॉर्ड्स में उनका ताजा रिकॉर्ड मुंह में डंडी डालकर ए से जेड तक अंग्रेजी वर्णमाला लिखने का है. यह अद्भभुत कारनामा उन्होंने केवल 17.69 सेकेंड में कर दिखाया है.

कुमार का कहना है, 'मैंने अपना पहला वर्ल्ड रिकॉर्ड साल 2014 में बनाया था. जब मैंने अपनी नाक से 103 अक्षर 46.30 सेकेंड में लिखे थे. इस तरह लिखने के लिए लिया गया यह सबसे कम समय था.' नांगलोई के रहने वाले कुमार का दूसरा रिकॉर्ड आंखें बंद कर अंग्रेजी वर्णमाला को 6.71 सेकेंड में लिखने का था. तीसरा रिकॉर्ड उन्होंने एक उंगली से 29.53 सेकेंड में वर्णमाला लिखकर बनाया.

उन्होंने कहा, 'मुझे गति में हमेशा से रुचि थी , मैं एक एथलीट बनना चाहता था. मैंने इसके लिए कड़ी मेहनत की लेकिन स्वास्थ्य समस्याओं के चलते यह मुमकिन नहीं हो पाया. इसके बाद मैंने जेएनयू में काम करना शुरू किया. जहां मुझे एहसास हुआ कि मैं टाइपिंग स्पीड में कई कीर्तिमान स्थापित कर सकता हूं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi