live
S M L

जेएनयू में एमफिल और पीएचडी की सीटों में भारी कटौती

यूजीसी के नोटिफिकेशन के तहत जेएनयू प्रशासन ने एमफिल और पीएचडी की सीटों में भारी कमी की है

Updated On: Mar 22, 2017 11:00 PM IST

Bhasha

0
जेएनयू में एमफिल और पीएचडी की सीटों में भारी कटौती

यूजीसी के नोटिफिकेशन के तहत जेएनयू प्रशासन ने एमफिल और पीएचडी की सीटों में भारी कमी की है. इस नई दाखिला नीति के खिलाफ जेएनयू के छात्र पिछले तीन माह से आंदोलन कर रहे हैं.

बुधवार को भी जेएनयू के में दाखिले संबंधी प्रॉस्पेक्टस के आने के बाद जेएनयू छात्रों ने एमफिल और पीएचडी पाठ्यक्रमों की सीटों में भारी कटौती को लेकर जेएनयू कैंपस में एक दिन की हड़ताल की.

विश्वविद्यालय ने मंगलवार को अपना प्रॉस्पेक्टस जारी किया. इसमें जेएनयू ने यूजीसी के दिशा-निर्देशों के आलोक में विभिन्न पाठ्यक्रमों के एमफिल और पीएचडी कार्यक्रमों की सीटों में भारी कटौती की है.

यूजीसी के आदेश पर हुई है सीटों में कटौती 

पिछले सप्ताह दिल्ली उच्च न्यायालय ने एमफिल और पीएचडी पाठ्यक्रमों को लेकर जेएनयू की नयी दाखिला नीति को चुनौती देने वाली कुछ छात्रों की याचिका खारिज करते हुए कहा कि इन पाठ्यक्रमों के लिए यूजीसी के दिशा-निर्देश सभी विश्वविद्यालयों पर लागू होते हैं. इससे विश्वविद्यालय के दाखिला प्रक्रिया शुरू करने का रास्ता खुल गया.

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष मोहित पांडेय ने कहा, 'वीसी ने कहा था कि इस बारे में सभी पक्षों में बातचीत की जाएगी और उपेक्षित समुदायों के छात्रों के लिए सीट नहीं घटाई जाएंगी, लेकिन उन्होंने प्रॉस्पेक्टस में ही अपने इरादे जाहिर कर दिये हैं.'

उन्होंने कहा, 'बुधवार की हड़ताल एक दिन की थी लेकिन हम अपनी आगे की कार्रवाई की नीति जल्द तय करेंगे.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi