S M L

बुलंदशहर हिंसा: मैं भगोड़ा नहीं, मुझे फंसाया जा रहा है- जीतू फौजी

जीतू फौजी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. एसआईटी ने उससे पूछताछ की है

Updated On: Dec 09, 2018 09:03 PM IST

FP Staff

0
बुलंदशहर हिंसा: मैं भगोड़ा नहीं, मुझे फंसाया जा रहा है- जीतू फौजी

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में भीड़ की हिंसा में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या कर दी गई थी. उनकी हत्या को लेकर कई संदिग्धों के नाम सामने आए. जिनमें एक नाम सेना के जवान जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी का भी है. यूपी के बुलंदशहर में कथित गोहत्‍या के बाद भड़की हिंसा के मामले में आरोपी सेना के जवान जितेंद्र मलिक उर्फ जीतू फौजी को शनिवार आधीरात को गिरफ्तार कर लिया गया था और स्थानीय कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

आरोपी जीतू ने बुलंदशहर हिंसा में नाम आने पर जीतू का कहना है- मैं भगोड़ा नहीं हूं. मैंने कुछ गलत नहीं किया है. मुझे फंसाया जा रहा है.

बता दें कि बीते सोमवार 3 दिसंबर को बुलंदशहर के स्याना थाना क्षेत्र के चिंरागवठी में गोहत्या की अफवाह पर भड़की भीड़ ने थाने को आग लगा दिया था. इस हिंसा और आगजनी में थाना प्रभारी (एसएचओ) सुबोध कुमार सिंह और सुमित कुमार नाम का एक स्थानीय युवक की गोली लगने से मौत हो गई थी.

घटना के बाद सरकार ने मेरठ जोन के एडीजी के नेतृत्व में पूरे मामल की जांच बिठा दी थी. पुलिस ने इस मामले में दो एफआईआर दर्ज किए हैं. इनमें 27 नामजद लोगों और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. घटना पर कड़ा कदम उठाते हुए यूपी सरकार ने जिले के एसएसपी का तबादला कर दिया था.

ये भी पढ़ें:

बुलंदशहर हिंसा: हटाए गए जिले के SSP, नए कप्तान बने प्रभाकर चौधरी

बुलंदशहर हिंसा: जीतू फौजी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi