विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

जियो के 90 फीसदी ग्राहक कंपनी के साथ बने रहना चाहते हैं

रिपोर्ट के मुताबिक 80 प्रतिशत उपयोक्ताओं के पास केवल एक जियो सिम है

Bhasha Updated On: Jun 18, 2017 06:12 PM IST

0
जियो के 90 फीसदी ग्राहक कंपनी के साथ बने रहना चाहते हैं

रिलायंस जियो के अनुमानित 90 प्रतिशत ग्राहकों ने इसकी प्राइम सदस्यता को चुना है जो उसने अपने प्रचार के लिए शुरू की थी. बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है.

अध्ययन के अनुसार जियो के करीब 76 प्रतिशत ग्राहक उसकी इस प्रचारात्मक योजना के खत्म होने के बाद भी इसकी सेवाओं को जारी रखने की इच्छा रखते हैं.

रिपोर्ट में कहा गया है, '80 प्रतिशत उपयोक्ताओं के पास केवल एक जियो सिम है, इसमें 90 प्रतिशत के पास प्राइम सदस्यता है और 84 प्रतिशत ने जियो के मासिक टॉप-अप का भी भुगतान किया है.'

रिपोर्ट के अनुसार, 'भुगतान करने वालों में अधिकतर ने 303 रुपए या 309 रुपए के पैक का भुगतान किया है. मजे की बात यह है कि सर्वे में जिन लोगों को शामिल किया गया है उनमें से केवल पांच प्रतिशत ही लाइफ का मोबाइल इस्तेमाल कर रहे हैं जबकि 40 प्रतिशत सैमसंग और 7 प्रतिशत आईफोन का इस्तेमाल कर रहे हैं.'

यह ऑनलाइन सर्वे जून महीने के मध्य में ही किया गया और इसमें करीब 1,000 उपभोक्तओं को शामिल किया गया था. ये ग्राहक बाजार के पूरे फलक का नहीं बल्कि मध्यम और उच्च श्रेणी के उपयोगकर्ता हैं.

कंपनी के ग्राहकों की संख्या इस साल 11.2 करोड़ तक पहुंच गई है

दूरसंचार विनियामक ट्राई की एक रिपोर्ट के अनुसार दूरसंचार बााजर में पिछले साल पांच सितंबर को कदम रखने वाली इस कंपनी के ग्राहकों की संख्या इस वर्ष अप्रैल के अंत तक 11.2 करोड़ तक पहुंच गई थी. इस तरह रिलायंस जियो की ग्राहक जोड़ने की रफ्तार एक नया कीर्तिमान है.

Mukesh-Ambani-Jio

रिपोर्ट के अनुसार सर्वे में 68 प्रतिशत ने कहा कि उन्होंने अपनी पुरानी सेवा कंपनियों से बातचीत में 10-40 प्रतिशत तक रियायत प्राप्त की है.

रिपोर्ट का निष्कर्ष है कि भारती एयरटेल उच्च स्तर के उपभोक्तओं के बाजार में जियो के साथ प्रतिस्पर्धा करने के मामले में सबसे अच्छी स्थिति में है तथा इस कंपनी को बाजार में विलय और अधिग्रहण की स्थिति में निम्न उपभोग करने वाले ग्राहकों के बीच फायदा होगा.

(डिस्क्लेमरः फ़र्स्टपोस्ट हिंदी नेटवर्क 18 समूह का हिस्सा है. नेटवर्क 18 का स्वामित्व और प्रबंधन रिलायंस इंडस्ट्रीज के हाथ में है)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi