Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

झारखंडः फुटबॉल मैच देखने आए 45 लाख रुपए का इनामी माओवादी गिरफ्तार

संदीप दा के ऊपर झारखंड सरकार की तरफ से 25 लाख और ओडिशा सरकार की तरफ से 20 लाख रुपए का इनाम घोषित है

FP Staff Updated On: Nov 02, 2017 08:11 PM IST

0
झारखंडः फुटबॉल मैच देखने आए 45 लाख रुपए का इनामी माओवादी गिरफ्तार

नक्सलवादियों के खिलाफ लड़ाई में झारखंड पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है. 45 लाख रुपए का इनामी हार्डकोर नक्सली संदीप दा को गिरफ्तार कर लिया गया है. वो अपने साथियों के साथ चाईबासा जिले में फुटबॉल मैच देखने आया था. उसे साल 2011 में चाईबासा जेल ब्रेक सहित कुल 36 कांड में आरोपी बताया जा रहा है.

संदीप दा के ऊपर झारखंड सरकार की तरफ से 25 लाख और ओडिशा सरकार की तरफ से 20 लाख रुपए का इनाम घोषित है. संदीप सारंडा में नक्सलवाद के संस्थापक सदस्यों में एक रहा है. वह चाईबासा जेल से फरार हार्डकोर नक्सली धीरेन्द्र महतो उर्फ गिरीश का ही शिष्य था. गिरीश ने ही उसे संगठन में वर्ष 2000 में संगठन में शामिल कराया था.

सरकार के लिहाज से यह उपलब्धियों भरा वर्ष रहा. झारखंड पुलिस की वेबसाइट के मुताबिक कुल 39 माओवादियों ने सितंबर तक सरेंडर किया है. इसमें 25 लाख इनामी नकुल यादव, 15 लाख इनामी कुंदन पाहन सबसे बड़ा नाम शामिल है.

जानकारी के मुताबिक संदीप दा 2011 में अपने हार्डकोर नक्सली साथी निर्भय उर्फ रघुनाथ हेम्ब्रम और धीरेन्द्र महतो उर्फ गिरीश के साथ चाईबासा जेल के गोदाम का ताला तोड़ कर खिड़की से कूद कर फरार हुआ था. उसके बाद वह और उसके साथी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा था.

चाईबासा जेल से 17 जनवरी 2011 को अपने दो हार्डकोर नक्सलियों के साथ फरार होने के बाद से ही लगातार कोल्हान पोडाहाट के क्षेत्र में अपनी गतिविधि बढ़ाए हुए था. पिछले दिनो पुलिस के साथ हुई मुठभेड उसके लिए भारी पड़ा.

गुरुवार को रांची से 120 किमी दूर चाईबासा में प्रेस कॉन्फ्रेंस में कोल्हान क्षेत्र के डीआईजी साकेत कुमार सिंह ने कहा कि मोतीलाल सोरेन उर्फ संदीप दा फुटबॉल मैदान से हथियार के साथ गिरफ्तार किया गया है. उसके पास एक विदेशी पिस्टल, 9 एमएम गोली, 6 घातक बम बरामद किया गया है.

उन्होंने बताया कि संदीप दा को बुधवार की दोपहर करीब 12 बजे जेटेया थाना क्षेत्र के लतारकुंदरीझोर से पकड़ा गया. यह कामयाबी उस समय मिली जब वो गांव में खेले जा रहे फुटबॉल मैच को देख रहा था.

जिस समय उसे पकड़ा गया वह मैदान के बगल में हड़िया की दुकान पर बैठा हुआ था. चाईबासा के एसपी अनीस गुप्ता ने गुप्त सूचना के आधार पर उसे गिरफ्तार किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi