S M L

झारखंड के पूर्व मंत्री राजा पीटर को एनआईए ने किया गिरफ्तार

ये वही राजा पीटर हैं जिन्होंने साल 2009 में तत्कालीन सीएम शिबू सोरेन को विधानसभा उपचुनाव में हराकर सनसनी मचा दी थी

Updated On: Oct 09, 2017 06:17 PM IST

FP Staff

0
झारखंड के पूर्व मंत्री राजा पीटर को एनआईए ने किया गिरफ्तार

झारखंड के पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा हत्याकांड में केंद्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की टीम ने रविवार को पूर्व मंत्री गोपाल कृष्ण पातर उर्फ राजा पीटर को हिरासत में लिया है. एनआईए के सात अधिकारी राजा पीटर से पूछताछ की. इसके बाद सोमवार को उन्हें कोर्ट में पेश किया गया.

ये वही राजा पीटर हैं जिन्होंने साल 2009 में तत्कालीन सीएम शिबू सोरेन को विधानसभा उपचुनाव में हराकर सनसनी मचा दी थी. राजा पीटर पर पूर्व मंत्री रमेश सिंह मुंडा की नक्सलियों से हत्या कराए जाने के आरोप हैं.

एनआईए ने हत्याकांड की जांच में जो सबूत इकट्ठा किया है. उसके मुताबिक पूरा षड्यंत्र राजा पीटर ने रचा था. इसके लिए उन्होंने नक्सलियों को एक करोड़ रुपए दिए. इसके बाद में वह तमाड़ से विधानसभा चुनाव लड़े और नक्सलियों के समर्थन से जीत गए.

हत्या के मामले में मुंडा के पूर्व अंगरक्षक एएसआई शेषनाथ सिंह और सहयोगी सुनील सोनी से लंबी पूछताछ की. टीम ने राजा पीटर के बुंडू स्थित दो ठिकानों और तमाड़ में चार ठिकानों पर छापेमारी की. इसके बाद तमाड़ में घर और कार्यालय को सील कर दिया गया.

हत्या का आरोपी नक्सली कुंदन पाहन कर चुका है सरेंडर 

एनआईए की ओर से जारी बयान के मुताबिक, शेषनाथ सिंह ने नौ जुलाई 2008 को विधायक रमेश सिंह मुंडा की गतिविधियों की जानकारी नक्सलियों को दी थी. इस एवज में उसे पैसे भी मिले थे.

फायरिंग में शेषनाथ को छोड़ दो अन्य बॉडीगार्ड शिवनाथ मिंज और खुर्शीद आलम मारे गए थे. एक स्थानीय युवक की भी मौत हुई थी. एनआईए ने जब शेषनाथ से पूछताछ शुरू की, तो वह खुद को निर्दोष बता रहा था.

हत्या का आरोपी नक्सली कुंदन पाहन सरेंडर कर चुका है. उससे चार बार रांची पुलिस और विशेष शाखा की टीम पूछताछ कर चुकी है. लेकिन सुराग नहीं मिला. केस की जांच एनआईए को दी गई. एनआईए इस मामले के खुलासे के करीब है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi