S M L

झारखंड के इन 4 गांवों में हर आदमी है 'दशरथ मांझी'

झारखंड के लातेहार जिले में चार गांवों के लोगों ने अपनी मेहनत से 13 किलोमीटर सड़क का निर्माण कर लिया

Updated On: Oct 05, 2017 02:48 PM IST

FP Staff

0
झारखंड के इन 4 गांवों में हर आदमी है 'दशरथ मांझी'

झारखंड के लातेहार (रांची से 107 किमी दूर) जिले में चार गांवों के लोगों ने अपनी मेहनत से 13 किलोमीटर सड़क का निर्माण कर लिया. कई साल तक स्थानीय सांसद, विधायक, जिलाधिकारी तक से गुहार लगाते रहे. किसी ने इस पर रत्तीभर भी ध्यान नहीं दिया. अंत में चार गांवों को लोगों ने मिलकर ठान लिया कि खुद ही सड़क बनाएंगे.

कुछ ऐसे ही वाकये के लिए बिहार के दशरथ मांझी को भी जाना जाता है. माउंटमैन के नाम से मशहूर दशरथ मांझी पर फिल्म भी बन चुकी है. दशरथ मांझी ने बिहार के गया जिले के अपने गांव गहलोर में सिर्फ छेनी और हथौड़ी लेकर पहाड़ काटकर सड़क बना ली थी. उन्होंने बिना किसी मदद के ये कारनामा कर दिखाया था.

लातेहार के 4 गांवों के लोगों ने इसी तर्ज पर अपने दम पर 13 किलोमीटर लंबी सड़क बना ली. लातेहार हाल के दिनों में माओवादी गतिविधियों का सबसे बड़ा केंद्र रहा है. यह अत्यधिक प्रभावित इलाकों में एक है. बीते माह जुलाई में यहां से सटे बूढ़ा पहाड़ में माओवादी अरविंद जी को मारने के लिए इस साल का सबसे बड़ा ऑपरेशन चलाया गया था.

सदर प्रखंड के निंदिर, कुदाग, तुरीडीह आदि गांव के लगभग तीन सौ ग्रामीणों ने सरकार की उम्मीद छोड़कर श्रमदान से 13 किमी सड़क बना डाली. इस काम में ग्रामीणों ने लगभग 20 ट्रैक्टर और चार जेसीबी भी लगाया था. सड़क बन जाने से लगभग 20 गांव के 50 हजार लोगों को फायदा पहुंचा है.

हाल यह था कि लातेहार जिला मुख्यालय से रेहलदाग गांव तक लगभग 13 किमी सड़क काफी जर्जर हो गयी थी. अक्सर दुर्घटना भी हो रही थी. इस दूरी को तय करने में लगभग तीन घंटे का समय लग जाता था. अंत में ग्रामीणों ने बैठक कर निर्णय लिया कि इस सड़क की वे लोग खुद मरम्मत करेंगे. ग्रामीणों के बीच चंदा किया गया और बुधवार को सभी लोग मिलकर सड़क बनाने में लग गए.

लातेहार के विधायक प्रकाश राम जो कि विपक्षी पार्टी झारखंड विकास मोर्चा (जेवीएम) से हैं, ने फ़र्स्ट पोस्ट से कहा कि चार गांवों के लोगों ने मिलकर सड़क बना ली. मुझे इसकी भनक तक नहीं लगी, ऐसा हो ही नहीं सकता. इस तरह की कोई डिमांड गांववालों की तरफ से आज तक नहीं मिला. पता नहीं उन लोगों ने कैसे सड़क बना ली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi