live
S M L

झारखंड: होली पर रंग लगाने के 'अपराध' में दलित की पिटाई, मौत

झारखंड में गुलाल लगाने पर पुलिस की पिटाई से दलित की जान चली गई.

Updated On: Mar 17, 2017 12:03 PM IST

FP Staff

0
झारखंड: होली पर रंग लगाने के 'अपराध' में दलित की पिटाई, मौत

झारखंड के कोडरमा में होली के अवसर पर एक ऊंची जाति के व्यक्ति पर गुलाल फेंकने के कारण कथित तौर पर पुलिस की पिटाई से दलित व्यक्ति की मौत हो गई.

हिन्दुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, होली के दिन 52 वर्षीय प्रदीप चौधरी गांव के कुछ और लोगों के साथ होली के रंग खेलने गए थे. वहां एक चौकीदार राजेंद्र यादव के ऊपर गुलाल लगाने की वजह से वो नाराज हो गया और थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी. उसके बाद पुलिस ने आकर उसे बहुत पीटा.

मृतक की व्यक्ति की पत्नी जसवा देवी ने हिंदुस्तान टाइम्स को बताया, 'होली के दिन वो रंग खेलने गए और बहुत देर तक वापस न आने पर मैं पता लगाने गई. पता चला उन्हें थाने ले जाया गया है.' महिला अपने भाई के साथ थाने गई. उसने बताया, 'हमने उन्हें छोड़ देने की विनती की. बहुत हाथ पैर जोड़े. लेकिन पुलिस ने उन्हें बहुत पीटा था. पुलिस ने उसे नहीं छोड़ा.'

रिपोर्ट के अनुसार गांव वालों ने बताया कि पुलिस की पिटाई से बेहोश हो जाने पर पुलिस उसे अस्पताल लेकर गई. उसे वहां से फिर थाने ले जाया गया और फिर पीटा गया. अगले दिन उसका शव मिला. जसवा देवी का कहना है कि शव पर चोट के बहुत गहरे निशान हैं.

कोडरमा के आलावा और भी ऐसे मामले सामने आए हैं. अंबाला के पथेरी गांव दलितों को होली के अवसर ऊंची जातियों की हिंसा का शिकार होना पड़ा. जिसमें दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए.

इससे पहले 2015, सोनभद्र में एक दलित की मौत होलिका दहन के दिन हुई थी. उसकी मौत पर संदेह जताते हुए कई रिपोर्ट्स आए थे. आरोप है कि उस व्यक्ति की हत्या ऊंची जातियों के लोगों ने कर दी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi