S M L

2017 में ब्लैक लिस्ट से बाहर हुआ था जसपाल अटवाल

विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने बताया कि ‘जसपाल अटवाल को भारत में प्रवेश के लिए वैध वीजा जारी किया गया था. उसे 2017 में कालीसूची से हटा दिया गया था’

Updated On: Mar 14, 2018 05:15 PM IST

Bhasha

0
2017 में ब्लैक लिस्ट से बाहर हुआ था जसपाल अटवाल

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की भारत यात्रा के दौरान सुखिर्यो में रहे भारतीय मूल के जसपाल अटवाल को साल 2017 में भारत में कालीसूची से हटा दिया गया था. विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने बुधवार में लोकसभा की कार्यवाही के दौरान ये जानकारी दी.

लोकसभा में के सुरेश के प्रश्न के लिखित उत्तर में विदेश राज्य मंत्री ने बताया कि ‘जसपाल अटवाल को भारत में प्रवेश के लिए वैध वीजा जारी किया गया था. उसे 2017 में कालीसूची से हटा दिया गया था.’

के सुरेश ने पूछा था कि क्या सरकार को इस बात की जानकारी है कि दोषी करार दिए गए खालिस्तानी आतंकवादी जसपाल अटवाल को कालीसूची में होने के बावजूद भी भारत में प्रवेश के लिए वीजा जारी किया गया था.

विदेश राज्य मंत्री वी के सिंह ने कहा कि भारत सरकार की यह नीति रही है कि भारतीय समुदाय के ऐसे दिशा खो चुके लोग जो अतीत में भारत विरोधी भावना रखते हों और बाद में उसे छोड़ दिया हो, उन तक पहुंच बनाई जाए.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि विदेशी यात्रियों को वीजा जारी करने के संबंध में स्थापित प्रक्रिया है और जसपाल अटवाल के मामले में भी वीजा जारी करने के लिए इसका अनुपालन किया गया.

बता दें कि पिछले महीने कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की भारत यात्रा के दौरान खलिस्तान समर्थक जसपाल अटवाल को भी डिनर कार्यक्रम में न्योता दिया गया था. डिनर के पहले एक कार्यक्रम में पीएम की पत्नी सोफी ट्रूडो के साथ नजर आए अटवाल पर विवाद हो गया, जिसके बाद डिनर का न्योता रद्द कर दिया गया. अटवाल ने 1991 में पंजाब मंत्रिमंडल के तत्कालीन सदस्य मल्कियत सिंह सिद्धू की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi