S M L

J&K: कड़ी सुरक्षा के बीच अमरनाथ यात्रियों का पहला जत्था रवाना

अमरनाथ यात्रा को सफल बनाने के लिए सुरक्षा एजेंसियों, प्रशासन और स्थानीय लोग आपस में मिल-जुलकर काम कर रहे हैं. श्रद्धालु भी बिना किसी भय के यात्रा में शामिल हो रहे हैं

FP Staff Updated On: Jun 27, 2018 08:56 AM IST

0
J&K: कड़ी सुरक्षा के बीच अमरनाथ यात्रियों का पहला जत्था रवाना

कड़ी सुरक्षा के बीच जम्मू बेस कैंप से अमरनाथ यात्रा के पहले जत्था को आज यानी बुधवार सुबह रवाना कर दिया गया. जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम, राज्यपाल के सलाहकार बीबी व्यास और विजय कुमार ने हरी झंडी दिखाकर इस यात्रा को रवाना किया.

अमरनाथ यात्रा में शामिल होने के लिए देश के अलग-अलग हिस्सों से श्रद्धालु पहुंचे हुए हैं.

इस मौके पर विजय कुमार ने कहा, 'अमरनाथ यात्रा काफी महत्वपूर्ण है. जनता, सुरक्षा एजेंसियों समेत अन्य एजेंसियों के सहयोग से यात्रियों का बेहतर तरीके से ध्यान रखने की कोशिशें की गई हैं. यात्रा के दौरान यातायात को सामान्य बनाने और सुनिश्चित करने का भी प्रयास किया गया है.'

अमरनाथ यात्रा को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. वहीं सीआरपीएफ के जम्मू सेक्टर के आईजी ने कहा, 'हम नई तकनीक और गाड़ियों का इस्तेमाल कर रहे हैं. पिछले साल की तुलना में इस साल यात्रा की सुरक्षा को और बढ़ाया गया है. किसी खतरे की बात नहीं है. हम हर तरह की चुनौतियों से निपटने के लिए तैयार हैं.'

अमरनाथ यात्रा में शामिल होने वाले श्रद्धालु काफी खुश नजर आए. उन्होंने कहा, 'हमें खुशी है कि हम अमरनाथ यात्रा पर जा रहे हैं. हमें किसी बात का डर नहीं है. यात्रा के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. हर साल सुरक्षा व्यवस्था और बेहतर हो रही है.'

बुधवार सुबह उधमपुर के टिकरी पहुंचने पर स्थानीय लोग और अधिकारियों ने अमरनाथ यात्रियों के पहले जत्थे का स्वागत किया.

अमरनाथ यात्रा के पहले जत्थे में रवाना हुए श्रद्धालु बुधवार को कश्मीर के गांदेरबल स्थित बालटाल और अनंतनाग स्थित नुनवान, पहलगाम आधार शिविर पहुंचेंगे. इसके अगले दिन यानी 28 जून को सभी श्रद्धालु पैदल ही 3880 मीटर की ऊंचाई वाले पहाड़ पर स्थित गुफा मंदिर में दर्शन के लिए निकलेंगे.

26 अगस्त को रक्षाबंधन के त्योहार के दिन अमरनाथ यात्रा खत्म होगा.

बता दें कि देशभर से अभी तक 2 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने अमरनाथ यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है. इन श्रद्धालुओं में साधु भी शामिल हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi