S M L

राज्य के हालात को बेहतर बनाने के लिए हो प्रयासः मुफ्ती

सर्वदलीय बैठक के बाद मुफ्ती ने कहा कि राज्य के हालात को बेहतर बनाने के लिए प्रयास हो जिससे कि ईद और अमरनाथ यात्रा शांति से हो सके

FP Staff Updated On: May 09, 2018 08:28 PM IST

0
राज्य के हालात को बेहतर बनाने के लिए हो प्रयासः मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री ने बुधवार को राज्य के हालात की समीक्षा करने के लिए सभी पार्टियों के बैठक बुलाई थी. बैठक के बाद उन्होंने कहा कि हर कोई इस बात पर सहमत हुआ कि यदि बीजेपी और पीडीपी के बीच हुए गठबंधन के एजेंडे का पालान किया जाता है, तो राज्य की स्थिति में बदलाव लाया जा सकता है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी पार्टियां इस बात पर भी राजी है कि हम प्रधानमंत्री मोदी से मिलकर राज्य के हालात के बारे में बताएंगे. जिससे कि हम जम्मू-कश्मीर के लोगों से जुड़ सके.

महबूबा मुफ्ती ने फिर से तत्कालीन प्रधानमंत्री वाजपेयी की जम्मू-कश्मीर नीति को अपनाने की बात दोहराई. उन्होंने कहा कि सभी ने इस बात पर सहमति जताई है कि जैसे 2000 में वाजपेयी जी ने एकपक्षीय युद्धविराम किया था, उसी तरह इस सरकार को भी इस पर सोचना चाहिए.

मुफ्ती ने कहा कि मुड़भड़ से आम आदमी को परेशानी हो रही है. माहौल को बेहतर बनाने के लिए हमें अवश्य ही प्रयास करना चाहिए जिससे कि ईद और अमरनाथ यात्रा दोनों शांतिपूर्ण तरीके से हो सके.

राज्य की स्थिति बेहतर बनाने में असफल रही है सरकार

वहीं, जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने पीडीपी-बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए राज्य में सुरक्षा स्थिति को बेहतर बनाने में विफल रहने का आरोप लगाया. श्रीनगर शहर के बाहरी हिस्से नरबल में पथराव की एक घटना में 22 साल के आर. तिरुमणि की मौत के बाद राजनीतिक दलों और अलगाववादी समूहों की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया देखने को मिली है.

कश्मीर के तीन मुख्य अलगाववादी समूहों के संयुक्त संगठन ‘ज्वाइंट रेसिस्टेंस फोरम’ ने भी इस घटना की निंदा की है. उसने कहा है कि इससे घाटी और अतिथियों के स्वागत की परंपरा की उसकी छवि को नुकसान पहुंचा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi