S M L

एमपी: छात्रा से रेप के आरोपी कांग्रेस विधायक कटारे पर इनाम घोषित

विधायक ने हाईकोर्ट में अर्जी देकर इस मामले में अपने खिलाफ भोपाल में दर्ज दो एफआईआर को रद्द करने की अपील की है

FP Staff Updated On: Feb 17, 2018 12:35 PM IST

0
एमपी: छात्रा से रेप के आरोपी कांग्रेस विधायक कटारे पर इनाम घोषित

रेप और अपहरण के केस में फंसे कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे ने अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने के लिए हाईकोर्ट में गुहार लगाई गई है. उनके खिलाफ भोपाल में अलग-अलग याचिकाओं में दर्ज दो एफआईआर को रद्द करने की अपील की गई है.

जबलपुर हाईकोर्ट में दायर इन याचिकाओं पर अगले सप्ताह सुनवाई हो सकती है. अभी पुलिस के रिकॉर्ड में हेमंत कटारे फरार चल रहे हैं. पुलिस ने उनकी गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपए के इनाम का ऐलान किया है.

हेमंत कटारे की शिकायत पर भोपाल पुलिस ने पत्रकारिता की एक छात्रा को ब्लैकमेलिंग के केस में गिरफ्तार किया था. इसी युवती ने विधायक पर रेप के आरोप लगाए थे. जेल से भेजी उसकी चिट्ठी के आधार पर महिला थाने में विधायक के खिलाफ रेप का केस दर्ज हुआ था. वहीं, युवती की मां ने बजरिया थाने पर विधायक हेमंत कटारे के खिलाफ अपहरण और धमकी देने की शिकायत की थी.

पुलिस ने घोषित किया 10 हजार का इनाम

मध्य प्रदेश की राजनीति में भूचाल लाने वाले इस रेप केस में फरार कांग्रेसी विधायक को भोपाल पुलिस 16 दिन बाद भी ढूंढने में नाकाम रही है. पुलिस ने आरोपी विधायक हेमंत कटारे और मामले में सह-आरोपी विक्रमजीत सिंह का सुराग देने वाले को 10-10 हजार रुपए का इनाम रखा है.

राजनीतिक रंग ले चुके इस मामले में पुलिस ने हेमंत कटारे की तलाश में कुछ जगहों पर दबिश दी थी. हालांकि, पुलिस की इस कार्रवाई को महज रस्म अदायगी माना जा रहा है. पुलिस ने अब इस कार्रवाई के आधार पर एक फरारी पंचनामा तैयार किया है और हेमंत कटारे की गिरफ्तारी पर इनाम घोषित किया है.

इस बीच ब्लैकमेलिंग केस में गिरफ्तार होने के बाद जमानत पर रिहा होने वाली पत्रकारिता की छात्रा ने कटारे के दोनों गनमैन के बयान दर्ज कराने के लिए डीआईजी धर्मेंद्र चौधरी को पत्र लिखा है. चूंकि इस मामले की जांच एसआईटी कर रही है. इस वजह से डीआईजी ने पत्र एसआईटी चीफ राहुल लोढ़ा को भेज दिया है.

क्या है यह पूरा मामला

विधायक हेमंत कटारे से ब्लैकमेलिंग के आरोप में गिरफ्तारी के बाद जेल में बंद रहने के दौरान छात्रा ने भोपाल डीआईजी के नाम एक आवेदन पुलिस को भेजा था, जिसमें विधायक पर रेप करने और फिर उसे एक झूठे मामले में फंसाने का जिक्र किया गया था. इस आवेदन की तस्दीक करने के बाद महिला थाने पर विधायक हेमंत कटारे के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 के तहत केस दर्ज किया गया था.

वहीं, इस मामले में छात्रा की मां ने डीआईजी को अलग से शिकायत की थी कि विधायक कटारे ने उनका अपहरण कर उनसे जबरन कुछ कागजातों पर दस्तखत करवाए और दबाव डालकर उनका वीडियो बनाया गया. मां की शिकायत पर बजरिया थाने में विधायक के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज किया गया है.

कौन है विक्रमजीत सिंह?

विधायक से ब्लैकमेलिंग केस में पुलिस ने छात्रा के अलावा विक्रमजीत सिंह नाम के एक शख्स को भी आरोपी बनाया था. पुलिस अब तक उसकी भी तलाश करने में नाकाम रही है. हालांकि, विक्रमजीत मीडिया को कई बार इंटरव्यू दे चुका है, लेकिन पुलिस उसे गिरफ्तार नहीं कर सकी. पुलिस ने अब उस पर भी अलग से 10 हजार रुपए का इनाम घोषित किया है.

(साभार: न्यूज़ 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi