S M L

कोलकाता: संदिग्ध आईएस आतंकी अबू मूसा ने जेल में गार्ड का गला रेता

बर्धमान ब्लास्ट में संलिप्तता के चलते मूसा को पिछले साल जुलाई में बिस्व भारती पैसेंजर ट्रेन से गिरफ्तार किया गया था

Updated On: Dec 04, 2017 10:06 AM IST

FP Staff

0
कोलकाता: संदिग्ध आईएस आतंकी अबू मूसा ने जेल में गार्ड का गला रेता

पिछले साल गिरफ्तार किए गए इस्लामिक स्टेट के संदिग्ध मोहम्मद मुसीरुद्दीन उर्फ अबु मूसा ने कोलकाता स्थित अलीपुर सेंट्रल जेल के एक गार्ड का गला काट दिया. गार्ड को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

मूसा को बर्धमान बम धमाके में उसकी कथित भूमिका को देखते हुए गिरफ्तार किया गया था. पश्चिम बंगाल में पकड़ा गया IS का वह इकलौता आतंकी है.

राज्य के जेल मंत्री उज्ज्वल बिस्वास ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि मूसा ने हमले के लिए एक लंबी कील का इस्तेमाल किया. उन्होंने बताया कि मूसा को उसी जेल के दूसरे सेल में शिफ्ट कर दिया गया है और उसे कड़ी निगरानी में रखा गया है. उन्होंने कहा, 'ऐसे आतंकियों को लोगों का सिर काटने के लिए ट्रेनिंग मिली होती है. वह गार्ड को मारने पर उतारू था, लेकिन जेल अधिकारियों ने समय पर पहुंचकर उसे रोक लिया.'

यह घटना रविवार सुबह करीब 6 बजे जेल के ब्लॉक 13 में हुई. यहां मूसा को काल कोठरी में रखा गया था. घायल गार्ड का नाम गोविंदो चंद्र डे है. वह रूटीन इंस्पेक्शन के लिए आतंकी के सेल में गया था. मूसा ने गार्ड के सिर पर ईंट मारी और इसके बाद गले पर कील से हमला कर दिया.

इस पर गार्ड चीखने लगा जिसे सुन अन्य अधिकारी वहां पहुंचे और उसे बचाया. जवानों ने जब मूसा को दबोच लिया, तो वह कथित रूप से IS के नारे लगाने लगा. जेल अधिकारियों के मुताबिक, वह कह रहा था कि गार्ड पर हमला उसके जिहाद का हिस्सा है.

अधिकारियों ने बताया कि उन्हें मूसा की जेब से कुछ केमिकल भी मिले हैं जिन्हें वह हमले के बाद गार्ड के गले पर लगाने वाला था. हालांकि उन्होंने इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी कि काल कोठरी में बंद मूसा तक वह कैमिकल कैसे पहुंचा.

पिछले साल जुलाई में हुआ था अरेस्ट

बर्धमान ब्लास्ट में संलिप्तता के चलते मूसा को पिछले साल जुलाई में बिस्व भारती पैसेंजर ट्रेन से गिरफ्तार किया गया था. राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) ने अपनी चार्जशीट में कहा कि मूसा भारत और बांग्लादेश में आईएसआईएस का प्रसार कर रहा था और वह शफी अरमार से सोशल मीडिया के जरिये संपर्क में था. चार्जशीट में यह भी कहा गया कि मूसा ने विदेशी यात्रियों पर लोन वोल्फ अटैक की योजना भी बनाई थी.

साल 2016 में मूसा से अमेरिका की संघीय जांच एजेंसी (FBI) ने भी कोलकाता में पूछताछ की थी. एफबीआई पड़ताल कर रही थी कि मूसा और सीरिया के सुल्तान अब्दुल कादिर अरमार के बीच भारत आए अमेरिकी नागरिकों को टार्गेट करने को लेकर क्या योजना बनी थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi